जल-जीवन- हरियाली आने वाली चुनौती से जागरूक करने का माध्यम : नवदीप शुक्ला

bih28 1754284 large जल-जीवन-हरियाली, नशा मुक्ति, बाल विवाह एवं दहेज उन्मूलन के पक्ष में 19 जनवरी को राज्यव्यापी मानव शृंखला को लेकर पानी टंकी मैदान में डीएम नवदीप शुक्ला के द्वारा जागरूकता हेतु बैठक की गई। बैठक के दौरान उपस्थित जनप्रतिनिधि, आशा, सेविका, जनवितरण प्रणाली विक्रेताओं सहित अन्य लोगों को संबोधित करते हुए डीएम ने कहा कि सामाजिक कुप्रथा बाल विवाह, दहेज प्रथा एवं नशा से हमें दूर करने के लिए एक-एक लोगों को इसके प्रति समर्पित होना होगा। तात्कालिक फायदे के लिए पेड़ को मत काटें।

इससे आने वाली पीढ़ी पर इसका असर होगा। इसलिए आने वाली पीढ़ी के उज्ज्वल भविष्य के लिए जल-जीवन-हरियाली को संरक्षित करना होगा। उन्होंने अपील किया कि 19 जनवरी को ज्यादा से ज्यादा संख्या में भाग लेकर इस अभियान को सफल बनाएं। वहीं एसडीओ एसजेड हसन ने कहा कि बाल विवाह एवं दहेज प्रथा को समाप्त करने के लिए महिलाओं को आगे आना होगा। उन्हें समाज में जागरूकता फैलानी होगी। उन्होंने कहा कि 19 जनवरी को प्रखंड कार्यालय से खुरहान होते हुए मधेली तक 16 किलोमीटर मानव शृंखला बनाई जाएगी। इस दौरान बीडीओ परवेज आलम, सीओ मनोरंजन कुमार मधुकर, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर बीके वर्मा, सीडीपीओ मीना कुमारी, पीओ संजीव कुमार, मुखिया सुबोध ऋषिदेव, पंसस राजकिशोर साह, पूर्व पंसस राजकुमार साह व पैक्स अध्यक्ष रंधीर सिंह सहित अन्य भी मौजूद थे।

गम्हरिया प्रखंड मुख्यालय स्थित कृषि भवन में जल-जीवन-हरियाली एवं सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ 19 जनवरी को होने वाले मानव शृंखला को सफल बनाने को लेकर समीक्षा बैठक बीडीओ ज्योति गामी की अध्यक्षता में हुई। बीडीओ ने सभी मजिस्ट्रेट को चयनित कर रूट के बारे में अवगत कराया। बैठक में सीओ रमेश कुमार सिंह, पशु चिकित्सक पदाधिकारी डॉ. गुणानंद सिंह, बीपीएम मुकुद सिंह, स्वच्छाग्राही इमरान हासमी, संजय कुमार, जवाहर कुमार व कुंदन सहित अन्य भी उपस्थित थे।

Advertisement
Send Your News to +919458002343 email to [email protected] for news publication to eradioindia.com