पुलिस की प्रताड़ना से ऑटो चालक ने खुद को लगाई आग, निजी अस्पताल में भर्ती

65
एसआई राजदीप पुनिया पर कई गम्भीर आरोप
पहले भी लग चुके है उगाही के इल्जाम
मेरठ। थाना टीपी नगर  क्षेत्र निवासी चंद्रलोक कॉलोनी ऑटो चालक अश्वनी लोधी बागपत रोड पर टेंपो चलाता है। आरोप है कि भोला रोड चौकी पर तैनात एसआई राजदीप पुनिया उससे जबरन वसूली करता है। अश्वनी ने कई बार इसका विरोध किया लेकिन दरोगा नहीं माना। बताया जाता है ​कि रविवार को मलियाना रोड पर दरोगा राजदीप ने अश्वनी को रोक लिया और उससे पैसे मांगे, इस पर युवक ने मना कर दिया। आरोप है कि इससे भड़के दरोगा ने उसे एक के बाद एक कई थप्पड़ जड़ दिए।

भरेबाजार इस तरह पिटाई से युवक ने काफी अपमानित महसूस किया, बताया जाता है कि दरोगा के जाते ही उसने टेंपो से तेल निकालकर खुद पर उड़ेला और आग लगा ली। बीच बाजार उसे जलते देख दूसरे टेंपो चालकों ने जैसे तैसे उसकी आग बुझाई और उसे केएमसी अस्पताल में भर्ती कराया।

Image result for set fire to self
Demo Pic

टेंपो चालक के आग लगाने की खबर पर काफी संख्या में लोग केएमसी पहुंच गए और दरोगा के खिलाफ हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर दरोगा राजदीप पुनिया भी अस्पताल पहुंचा तो लोगों ने उसका जबरदस्त विरोध किया और उसे खूब खरी खोटी सुनाई। सूचना पर सीओ चक्रपाणि त्रिपाठी भी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाबुझाकर शांत कराया। लोगों को कहना था कि दरोगा जबरदस्ती लोगों को तंग करता है, उसकी वजह से एक युवक को ऐसा कदम उठाना पड़ा। खबर मिलते ही टेंपो चालक के घरवाले भी अस्पताल पहुंचे। उसकी बूढ़ी मां का रो रोकर बुरा हाल था। 

सीओ चक्रपाणि त्रिपाठी ने बताया कि युवक के बयान लिए जा रहे हैं, फिलहाल उसका इलाज चल रहा है। उसे अच्छे से अच्छा इलाज दिलाया जाएगा अगर जरूरत पड़ी तो आर्थिक मदद भी की जाएगी। दरोगा के रवैये के संबंध में उनका कहना था कि मामले में जांच कराई जाएगी, अगर दरोगा की गलती होगी तो कार्रवाई भी होगी। वहीं अस्पताल में भर्ती अश्वनी की हालत काफी खराब थी। आग के कारण उसका शरीर पचास फीसदी से ज्यादा झुलस गया था।
Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com