शाहना हत्याकांड में शामिल 3 आरोपी गिरफ़्तार, अवैध असलहा सहित एक मोटरसाइकिल बरामद

17
  • फाईज़ अली सैफी, ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। पूर्व विधायक वहाब चौधरी के छोटे भाई आस-मोहम्मद द्वारा अपनी ही पत्नी को गोली मारकर हत्या किए जाने के मामले में पुलिस ने हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया हैं। वहीं, पुलिस को इनके पास से अवैध असलहा सहित एक मोटरसाइकिल भी बरामद हुई है। जबकि, दूसरी तरफ एक आरोपी अभी फरार हैं, जिसकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा हैं।

आपको बताते चलें कि थाना मुरादनगर पुलिस ने शाहना हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों को बृहस्पतिवार शाम ग्राम जलालपुर के तिराहे के पास स्थित रेलवे पुल के पास से गिरफ्तार किया हैं। पुलिस को इनके पास से एक अवैध चाकू, दो तमंचे मय कारतूस और एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है, जोकि हत्याकांड में इस्तेमाल की गई थी।
आपको बता दें कि पुलिस को पकड़े गए आरोपियों ने अपना नाम अहद पुत्र आस-मोहम्मद, दूसरे ने समीर अंसारी पुत्र शहजाद और तीसरे ने शाहरुख पुत्र यूनुस निवासी थाना मुरादनगर गाज़ियाबाद बताया हैं। वहीं, दूसरी तरफ एक आरोपी तबस्सुम उर्फ भूरे अभी फरार हैं। पुलिस को पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने पारिवारिक कलह के चलते शाहना की हत्या की है, जिसके जुर्म का इन्होंने इकबाल कर लिया हैं।

दरअसल, वादिया तूबा ने अपनी मां शाहना की हत्या के संबंध में चार लोगों को नामजद करते हुए उनके विरुद्ध थाने में तहरीर दी थी। जिसके उपरांत थाना मुरादनगर पुलिस ने शाहना हत्याकांड के मुख्य आरोपी आस-मोहम्मद को तो तत्काल ही गिरफ्तार कर लिया था, जिसमें तीन आरोपी आहद, समीर अंसारी और तबस्सुम उर्फ भूरी फरार चल रही थी।

गौरतलब है कि पुलिस ने अपनी सक्रियता के चलते की जा रही गहन जांच के अनुकूल दो नामजद आरोपी आहद और समीर को तो गिरफ्तार किया ही, इसके अलावा एक और अन्य आरोपी शाहरुख को गिरफ्तार किया है, जिसका नाम पुलिस की जांच में प्रकाश में आए आया हैं।

थाना मुरादनगर प्रभारी निरीक्षक ओमप्रकाश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि नामजद आरोपियों के अलावा पुलिस की जांच में एक और नाम प्रकाश में आया है, जोकि नामजद आरोपियों के साथ ही पकड़ा गया हैं। इसके अलावा उन्होंने बताया कि फिलहाल तबस्सुम उर्फ भूरी फरार चल रही हैं, जिसकी गिरफ्तारी का पुलिस प्रयास कर रही हैं। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के विरुद्ध दर्ज मुकदमें के अनुकूल कार्रवाई करके इनको जेल भेज दिया हैं।

बता दें कि शाहना हत्याकांड में शामिल तीनों आरोपियों को पकड़ने वाली टीम में थाना मुरादनगर प्रभारी निरीक्षक ओमप्रकाश सिंह व उनकी टीम के वरिष्ठ उपनिरीक्षक अरविंद कुमार शर्मा, उपनिरीक्षक जितेंद्र कुमार, वरिष्ठ सिपाही सोमपाल सिंह, सिपाही दीपक कुमार और सिपाही राजीव कुमार मौजूद रहे हैं।
Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com