सच छापने पर पत्रकार व संपादकों का उत्पीड़न कर रही यूपी सरकार: प्रियंका गांधी

Priyanka Gandhi asked why government is not using buses for ...
लखनऊ। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने वाराणसी में एक पत्रकार पर हुई एफाईआर को लेकर सरकार पर निशाना साधा और लिखा कि सच्चाई सामने लाने पर यूपी सरकार पत्रकारों पूर्व अधिकारियों, विपक्ष और अब यहां तक की पत्रकारों पर एफआईआर करवा रही है।
प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को ट्वीटर के माध्यम से एक वेबसाइट के लिंक को पोस्ट करते हुए लिखा कि “यूपी सरकार एफआईआर करके सच्चाई पर पर्दा नहीं डाल सकती। जमीन पर इस आपदा के दौरान घोर अव्यवस्थाएं हैं। सच्चाई दिखाने से इनमें सुधार संभव है लेकिन यूपी सरकार पत्रकारों पर, पूर्व अधिकारियों पर, विपक्ष पर सच्चाई सामने लाने के लिए एफआईआर करवा रही है।”

ज्ञात हो कि वाराणसी के डोमरी गांव की एक महिला ने एक समाचार पोर्टल के पत्रकार और संपादक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है क्योंकि इनकी एक रिपोर्ट में कथित तौर पर महिला की बातों को गलत ढंग से पेश करने के साथ-साथ उनकी जाति व वित्तीय स्थिति का भी मजाक उड़ाया गया है।
कोतवाली के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल ने कहा कि “डोमरी गांव की एक महिला ने पिछले हते राम नगर पुलिस के पास जाकर अपनी शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके आधार पर एक नए पोर्टल के मुख्य संपादक और रिपोर्टर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। यह शिकायत आईपीसी की धारा 269 (उपेक्षापूर्ण कार्य), 501 (मानहानिकारक जानी हुई बात को मुद्रित या उत्कीर्ण करना) और अनुसूचित जाति-जनजाति अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज की गई है। चंदेल ने कहा कि छानबीन के लिए अब उन्हें यह मामला सौंप दिया गया है।

Send Your News to +919458002343 email to [email protected] for news publication to eradioindia.com
Advertisement