Crime in Ghaziabad: हापुड़ के युवक की गाजियाबाद में सनसनी खेज हत्या

Crime in Ghaziabad: हापुड़ के युवक की गाजियाबाद में सनसनी खेज हत्या

  • अस्पताल से अपनी पत्नी को यह कहकर गया था युवक कि वह 20 मिनट में लौट आएगा वापस
  • मृतक के भाई का मिट्टी उठाने को लेकर जनपद हापुड़ के पिलखुवा में चल रहा था विवाद

फाईज़ अली सैफी || ई-रेडियो इंडिया

Crime in Ghaziabad: जनपद हापुड़ के पिलखुवा से मसूरी अपनी पत्नी के इलाज के लिए आए युवक को जालसाजी से बुलाकर उसे मौत के घाट उतार दिया गया हैं। मृतक युवक अस्पताल में अपनी पत्नी से यह कहकर गया था कि वह केवल 20 मिनट में वापस लौट आएगा, लेकिन वह वापस नहीं लौटा और अगले दिन इस युवक का शव उसकी ही गाड़ी में मसूरी के काजीपुर नायफल रोड पर पड़ा मिला हैं। हत्या का कारण मिट्टी उठाने को लेकर विवाद बताया जा रहा हैं।

आपको बता दें कि शुक्रवार को हापुड़ के थाना पिलखुवा निवासी राशिद अपनी पत्नी को दवाई दिलाने के लिए मसूरी थानाक्षेत्र के होली क्रॉस अस्पताल में लाया था। राशिद की पत्नी ने बताया कि कुछ समय बाद उनके मोबाइल फोन पर एक कॉल आई थी और फिर वह अस्पताल से यह कहकर वहां से चले गए कि उसे कुछ काम हैं और वह 20 मिनट में वापस लौट आएगा।

गौरतलब है कि जब राशिद देरशाम तक भी वापस नहीं लौटा तो उसके परिवार वालों को उसकी चिंता हो गई। राशिद के भाई गुलशद ने थाने में जानकारी देते हुए बताया कि उसका भाई राशिद अपनी पत्नी को लेकर अस्पताल में आया था और फिर अपनी पत्नी से 20 मिनट का समय लेकर वापस लौटने की बात कहकर वहां से चला गया था, अब उसका मोबाइल फोन बराबर बंद आ रहा हैं।

पुलिस ने गुलशद द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र के अनुकूल राशिद की तलाश शुरू कर दी थी और फिर क्या था अगले दिन शनिवार सुबह समय करीब 8 बजे के लगभग पुलिस को सूचना मिली कि एक व्यक्ति का शव काजीपुर नायफल रोड पर एक सफेद रंग की वैगनआर कार में पड़ा हैं। जैसे ही पुलिस को यह सूचना मिली तो तत्काल एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन और क्षेत्राधिकारी सदर गाज़ियाबाद महिपाल सिंह एवं प्रभारी निरीक्षक राघवेंद्र सिंह समेत अन्य पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

इतना ही नहीं, उन्होंने वहां डॉग स्क्वायड व फील्ड यूनिट को भी घटनास्थल पर बुलाया। बता दें कि पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी रवाना कर दिया हैं। वहीं, पुलिस को शव की पहचान करने पर पता पड़ा कि यह शव उसी राशिद का हैं, जोकि अपनी पत्नी को दवाई दिलाने मसूरी थानाक्षेत्र में स्थित एक अस्पताल में आया था।

वह कार जिसमें युवकी लाश मिली।

दरअसल, पुलिस कि विवेचना के दौरान यह बात प्रकाश में आई की जिस मोबाइल नंबर से मृतक के पास कॉल आई हैं वह सिम कार्ड और मोबाइल फोन फर्जी आईडी पर ओम कम्युनिकेशन भाटिया मोड़ से दुकानदार आयुष ने आशीष चौधरी व अन्य एक व्यक्ति को योजना के तहत बेचा था। पुलिस ने तत्काल आयुष चौधरी को हिरासत में ले लिया और उससे पूछताछ करनी भी शुरू कर दी।

Crime in Ghaziabad: पुलिस ने दो को किया गिरफ्तार

पूछताछ में आयुष ने बताया कि उसने और उसके मामा के लड़के विक्की उर्फ विकास राठी ने फर्जी सिम कार्ड व मोबाइल फोन योजना के तहत लिया था। वहीं, मृतक राशिद के भाई वादी गुलशद ने बताया कि मिट्टी उठाने को लेकर उसका और जगबीर सिंह का हापुड़ के पिलखुवा में विवाद चल रहा हैं, जिसके कारण जगदीश सिंह ने उसके भाई राशिद की हत्या की हैं।

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

क्या बोले एसपी ग्रामीण

एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति की डेडबॉडी वैगनआर कार में मिली हैं तो पुलिस वहां तत्काल मौके पर पहुंच गई और उस व्यक्ति के शव को अपने कब्जे में ले लिया। इस व्यक्ति की शिनाख्त हापुड़ के पिलखुवा निवासी राशिद के रूप में हुई हैं।

मृतक के बारे में पता किया गया तो यह अपनी पत्नी को लेकर मसूरी थानाक्षेत्र के एक अस्पताल में दवाई दिलाने के लिए आया था और फिर अपनी पत्नी को बता कर कहीं चला गया था। फिलहाल, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि राशिद की मौत किस तरह हुई हैं।

Crime in Ghaziabad पर सीओ ने क्या कहा

क्षेत्राधिकारी सदर गाज़ियाबाद महिपाल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि दो आरोपी आशीष चौधरी पुत्र जगबीर सिंह निवासी थाना कविनगर और आयुष पुत्र सतीश निवासी थाना सिहानी गेट को तो गिरफ़्तार कर लिया गया हैं। वहीं, अन्य दो आरोपी जगबीर सिंह और विक्की उर्फ विकास राठी अभी फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही हैं, जल्द ही वह भी पुलिस की गिरफ़्त में होंगे।

बता दें कि तत्काल कार्रवाई करते हुए हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम में थाना मसूरी प्रभारी निरीक्षक राघवेंद्र सिंह, वरिष्ठ उपनिरीक्षक इसरार अहमद, उपनिरीक्षक कमलेश कुमार, सिपाही सतीश कपासिया, राधेश्याम व एसपी ग्रामीण की टीम भी मौजूद रहीं हैं।

Advertisement
इस समाचार के प्रायोजक हैं शिवांगी डेरी, मेरठ।



email: eradioindia@gmail.com || info@eradioindia.com || 09458002343

अगर आप भी अपना समाचार/ आलेख/ वीडियो समाचार पब्लिश कराना चाहते हैं या आप लिखने के शौकीन हैं तो आप eRadioIndia को सीधे भेज सकते हैं। इसके अलावा आप फेसबुक पर हमें लाइक कर सकते हैं और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं। मेरी वीडियोस के नोटिफिकेशन पाने के लिए आप यूट्यूब पर हमें सब्सक्राइब करें। किसी भी सोशल मीडिया पर हमें देखने के लिए टाइप करें कि eRadioIndia.

https://eradioindia.com/work-with-us/
Don't wait just take initiation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *