e radio india, 15 अगस्त 2020: मेरठ की प्रमुख खबरें फटाफट अंदाज में

122

  • ब्यूरो रिपोर्ट || ई-रेडियो इंडिया

मेरठ। नमस्कार आप देख रहे हैं ई-रेडियो इंडिया… आइये नजर डालते हैं मेरठ की प्रमुख खबरों पर फटाफट अंदाज में

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मेरठ में आतंकी इनपुट के चलते हाई एलर्ट

बेंगलुरू में हिंसा के बाद मेरठ में पीएफआई के सदस्यों की तलाश तेज हो गई है। पुलिस के अनुसार 20 दिसंबर 2019 को मेरठ में हुई हिंसा में पीएफआई को आरोपी माना गया था। स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर पीएफआई से जुड़े लोगों को भी तलाश जा रहा है। वहीं स्वतंत्रता दिवस पर आतंकी इनपुट मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। शहर में चप्पे चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर है।

आपको बता दें कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन के बाद से जनप्रतिनिधियों को इंटरनेट कॉलिंग से धमकी मिल रही हैं। स्वतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर मेरठ में हाई अलर्ट जारी रहा पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान चलाया इस दौरान बस अड्डे और विभिन्न चौराहों को सघनता से चेक किया गया इसके अलावा शहर में विभिन्न बाजारों, होटल व सेंसटिव जगहों में भी चेकिंग अभियान चलाया गया।

तलाशी अभियान बसों व अन्य ट्रांसपोर्ट वहिकल्स में भी की गई, अधिकारियों ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए मेरठ में हाई अलर्ट है जिसके चलते चप्पे-चप्पे पर पुलिस की पैनी नजरें रहेंगी किसी भी तरह की संदिग्ध हरकतों पर पुलिस तुरंत गिरफ्तार कर जेल भेजेगी।

अपने ही सरकार में अधिकारियों से त्रस्त हैं भाजपा नेता, मुखिया गुर्जर, कुलविन्दर गुर्जर उतरे सड़कों पर

बुलंदशहर की सुदीक्षा भाटी की छेड़खानी के दौरान बाइक से गिरने से मौत हो जाने के मामले में जिला पंचायत अध्यक्ष कुलविंदर सिंह गुर्जर और पथिक सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुखिया गुर्जर संयुक्त रुप से पुलिस महानिरीक्षक के कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया।

हैरत की बात यह है कि अपनी ही सरकार के विरोध में सड़कों पर भाजपा नेताओं को क्यों उतरना पड़ रहा है? हालाकि इसका कोई सटीक जवाब तो नहीं मिला लेकिन इस तरह से भाजपा के ही नेताओं का सड़कों पर उतरना कहीं न कहीं यह जताता है किस सरकार में अब सबकुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। आपको बता दें कि पुलिस सुदीक्षा भाटी प्रकरण को महज रोड ऐक्सिडेंट का मामला बता रही है। लेकिन उनके पिता का कहना है कि यह ऐक्सिडेंट नहीं बल्कि मर्डर है।

मेरठ के डाक्टर्स को मिली गुर्दा प्रत्यारोपड़ की बड़ी कामयाबी

मेरठ के न्यूटिमा हास्पिटल को गुर्दा प्रत्यारोण में बड़ी कामयाबी मिली है… अस्पताल प्रशासन ने बताया कि नौ वर्ष के नैतिक की कुल लम्बाई महज चार फिट है और इसमें इनके दादा का गुर्दा प्रत्यारोपित होना था… यह एक मुश्किल काम था…. लेकिन कड़ी मेहनत और तल्लीनता के आगे यह परेशानी छू मंतर हो गई। गुर्दा प्रत्यारोपण में डॉ. संदीप गर्ग, डॉ. शलीन शर्मा, डॉ. शरत चंद गर्ग, डॉ. अवनीत राणा, डॉ. सारिका व डॉ. श्वेता रहीं।

बंगलुरू घटना के आरोपी का सर कलम करने वाले को 51 लाख का इनाम देने की घोषणा पर बड़ी कार्रवाई

बंगलुरू में फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट करने पर बवाल हो गया था। बृहस्पतिवार को इस संबंध में फलावदा थाना क्षेत्र के रसूलपुर मुरादनगर निवासी आरोपी शाहजेब रिजवी ने प्रेसवार्ता की। उन्होंने कहा कि आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले का सिर कलम करने वालों को वे 51 लाख रुपये का इनाम देंगे। पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। वहीं मेरठ पुलिस ने बताया कि इस तरह से किसी भी तरह की हरकत करने वालों कतई बर्दाश्श्त नहीं किया जायेगा।

इस प्रकरण में एसएसपी अजय साहनी ने कहा कि किसी को भी माहौल खराब नहीं करने दिया जाएगा। 51 लाख रुपये का ऐलान करने वाले शाहजेब रिजवी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। आरोपी की गिरफ्तारी के दो टीमें गठित की गई हैं। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

गौरतलब है कि आरोपी का समाजवादी पार्टी से ताल्लुक होने की अफवाहों का खण्ड जिलाध्यक्ष राजपाल चौधरी ने किया। आपको बता दें कि यह युवक पहले मेरठ के देहात क्षेत्र में सपा से जिला पंचायत का चुनाव भी लड़ चुका है। तस्‍वीरें बताती है कि ये तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव से भी मुलाकात कर चुका है।

सरधना पुलिस से त्रस्त लोग पहुंचे एसएसपी दरबार

सरधना के केशावली गांव के रहने वाले सूरजपाल ने पड़ोश के रहने वाले अविनाश पर नाबालिग बेटी को बहला फुसलाकर भगा लेने को आरोप लगाते हुये बताया कि सरधना पुलिस मुकदमा लिखने के बावजूद कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है… उन्होंने एसएसपी को प्रार्थनापत्र देते हुये आरोपी को गिरफ्तारवाने की अपील की है…

सुशील जसवंत राय हॉस्पिटल की प्रबंध समिति पर दर्ज हुआ धोखाधड़ी का मुकदमा

सुशील जसवंत राय हॉस्पिटल साकेत की प्रबंध समिति पर एसीजेएम 5th की अदालत ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश जारी किये हैं। आपको बता दें कि इस प्रकरण में कई बार शिकायत के बावजूद पुलिस ठोस कार्रवाई नहीं कर रही थी लेकिन अधिवक्ता राम कुमार शर्मा के प्रयासों से धोखा धड़ी कर फ़र्ज़ी काग़ज़ात बनाने व उनका इस्तेमाल करने सम्बंधी धारा में मुकदमा पंजीकृत करने का आदेश हुआ है।

इस प्रकरण में पीड़ित 90 वर्षीय शीला गुप्ता व उनकी बेटी को सुशीला जसवंत राय की कमेटी से बाहर कर दिया था। इस प्रकरण में अशोक गुप्ता, विनय गुप्ता, आनन्द गोयल, डॉ. भारती शर्मा व राजीव गुप्ता को आरोपी बनाया गया है। पीड़िता ने अधिवक्ता राम कुमार शर्मा की मदद से अदालत में गुहार लगाई थी। अदालत ने तीन दिन के भीतर थाना सिविल लाइन से आख्या प्रस्तुत करने को कहा है।

Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com