ex DGP Gupteshwar Pandy || Bihar Election 2020

ex DGP Gupteshwar Pandy टोटके बाज निकले, जदयू के मंच पर बदलने लगे रंग

  • संवाददाता || ई-रेडियो इंडिया

ex DGP Gupteshwar Pandy: बिहार की राजनीति इस वक्त चरम पर है, शंखनाद हो चुका है, तारीखों (Bihar Election 2020) का ऐलान हो चुका है। किस चरण में कहां-कहां मतदान होगा, यह भी तय हो चुका है। बचा है तो बस सियासी समीकरणों का ठीक से बैठना। बिहार की सियासत इस वक्त परवान चढ़ रही है और इसमें सबसे बड़ा तड़का लगा है पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के राजनीति में अवतरण का।

पार्टी की सदस्यता ग्रहण करते समय इस तरह से दिखे लांल रंग के कंबिनेशन में दिखे थे पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे।

रिटायरमेंट से 6 माह पूर्व वीआरएस लेकर बिहार की राजनीति में दांव आजमाने की मंशा लिए बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे इन दिनों चर्चा का केंद्र बने हुए हैं। हाल ही में जदयू के एक कार्यक्रम में नजर आए तो सबकी नजरें अचानक गुप्तेश्वर पांडे ठिठक गई।

तो क्या टोटके बाज है ex DGP Gupteshwar Pandy

DGP Gupteshwar Pandy
DGP Gupteshwar Pandy

अचानक बिहार की राजनीति (Bihar Election 2020) में पुलिसिया रौब से इस्तीफा देकर शामिल हुए गुप्तेश्वर पांडे ने जदयू की सदस्यता तो ग्रहण कर ली, उसके बाद जब पार्टी कार्यालय पहुंचे तो पूरी तरह से राजनीतिक रंगों में सराबोर दिखे। लेकिन इससे भी बड़ा आश्चर्य तब हुआ जब उनके इस पहनावे से टोटके बाजी की बू आने लगी।

चुप रहना, ज्यादा सुनना और पहनावे में लाल रंग की जैकेट और हाथ में लाल रंग के ही कपड़े का कंबीनेशन देख कोई भी आसानी से कह सकता है कि पांडे जी टोटके बाज हैं।

यह रंग देख सियासी पंडित भी हैरत में हैं।

पार्टी की सदस्यता रविवार को ग्रहण करने वाले ex DGP Gupteshwar Pandy की मंशा के पीछे तांत्रिकों का मानना है कि किसी विशेष प्रयोजन से ही ऐसा किया जाता है। ज्योतिषीय गणना में रविवार सूर्य का दिन है और सूर्य का रंग लाल होता है। ज्योतिषविद मानते हैं कि सूर्य का साथ जिसको मिल जाए वह राजनीति (Bihar Election 2020) में भी सूर्य की तरह ही चमकता हुआ दिखाई देता है।

क्योंकि सूर्य का रंग लाल होता है ऐसे में लाल रंग के कंबीनेशन के पीछे पांडे जी का टोटके वाला सीन उजागर हो गया। यही नहीं उन्हें हाथ में मोटा कड़ा भी पहने हुए देखा गया जिसका रंग लाल था।

‘लाली देखन मैं चली मैं भी हो गई लाल’

डीजीपी रहते हुये डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे कुछ इस तरह से नजर आते थे।

आपको जानकर आश्चर्य होगा डीजीपी के पद पर रहते हुए ex DGP Gupteshwar Pandy को पहले इस कंबिनेशन में नहीं देखा गया। लेकिन राजनीतिक रंग चढ़ते हैं लाल कड़ा हाथ में आ गया, लाल कपड़ा भी हाथों में पकड़े नजर आए और यही नहीं उनके बदन पर जैकेट का कलर भी लाल ही था। रविवार का दिन सूर्य का होता है और सूर्य का कलर भी लाल से ही ताल्लुक होता है। तो ऐसे में यह कयास लगाना बेहद आसान है पांडे जी राजनीति (Bihar Election 2020) में विपक्षियों को लाल करने ही आए हैं।

पूर्व डीजीपी साहब का Color Combination देखकर यही कहा जा सकता है कि-

लाली मेरे लाल की, जित देखूं तित लाल
लाली देखन मैं चली मैं भी हो गई लाल

ex DGP Gupteshwar Pandy || Bihar Election 2020
ex DGP Gupteshwar Pandy || Bihar Election 2020

इसे भी देखें-




email: eradioindia@gmail.com || info@eradioindia.com || 09458002343

अगर आप भी अपना समाचार/ आलेख/ वीडियो समाचार पब्लिश कराना चाहते हैं या आप लिखने के शौकीन हैं तो आप eRadioIndia को सीधे भेज सकते हैं। इसके अलावा आप फेसबुक पर हमें लाइक कर सकते हैं और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं। मेरी वीडियोस के नोटिफिकेशन पाने के लिए आप यूट्यूब पर हमें सब्सक्राइब करें। किसी भी सोशल मीडिया पर हमें देखने के लिए टाइप करें कि eRadioIndia.

https://eradioindia.com/work-with-us/
Don't wait just take initiation

One Reply to “ex DGP Gupteshwar Pandy टोटके बाज निकले, जदयू के मंच पर बदलने लगे रंग”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *