जिला कलेक्टर द्वारा कराई गई जाँच में टोंक जेल चौथ बसूली के आरोप सही पाये गये

|| ई-रेडियो इंडिया

नई दिल्ली। जिला जेल टोंक के अधिकारियों व उनकी सह पर जेल में चौथ बसुली करने वाले क़ैदियों पर क़ानून का सिकंजा दिन पर दिन कसता जा रहां है जिला जेल टोंक में हवालाती बंदियो से चौथ बसुली के आरोपों की जाँच जिला कलेक्टर ने जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजयकुमार आर्य से पिछले दिनो कराई थी इस जाँच रिपोर्ट में जाँच आधिकारी एसीईओ जिला परिषद टोंक ने अपनी जाँच रिपोर्ट दिनांक इक्कीस अगस्त दोहज़ार बीस को जिला कलेक्टर टोंक को सोंप दी थी जिसे जिला कलेक्टर ने उचित कर्यबाही करने हेतु ड़ीजी महोदय जेल जयपुर को भी भेज दिया हैं।

 शिकायतकर्ता बंदियो के दिल्ली हाई कोर्ट के अधिवक्ता राजेन्द्रसिंह तोमर ने आरटीआई के माध्यम से जाँच रिपोर्ट की सत्यप्रति प्राप्त कर आज उसकी प्रतियाँ पत्रकारों को देते हुए बताया की जाँच  रिपोर्ट में एसीईओ जिला परिषद टोंक अजयआर्य ने भी जिला जेल में चौथ बसुली के लगे आरोपों की पुस्टी करते हुए उन्हें सत्य पाया हैं ओर उन्होंने खुद भी इस मामले को गम्भीर प्रकर्ती का बताते हुए आगे इस मामले की बिस्तरत तकनीकी जाँच कराने के लिए जेल महानिदेशक ओर भ्रस्टाचार निरोधक ब्यूरो या अन्य तकनीकी जाँच एजेंसी द्वारा कराए जाने की संतुस्ती की हैं !

 जिला कलेक्टर द्वारा कराई इस जाँच से भी अब ये स्पष्ट हो गया हैं की जिला करागार टोंक में हवालाती बंदियो को प्रताड़ित कर उनसे चौथबसुली की जा रही थी इस मामले में कोतवाली थाना टोंक में भी एक मुक़दम्मा वकील राजेन्द्रसिंह तोमर द्वारा पिछले दिनो कोर्ट आदेश से लगभग बीस धराओ सहित दर्ज कराया जा चूका हैं वेसे जिला जेल में कुल दस बंदी बैरक हैं एसीईओ महोदय ने अपनी जाँच रिपोर्ट में मात्र कुछ बैरकों के बंदियो के ही ब्यान दर्ज किए हैं।

यदि सभी बंदी बैरकों के बंदियो के अलग अलग ब्यान दर्ज किए जाते तो ओर सचाई सामने आती पर फ़िर भी ज़्यादा तर बंदियो के बयानो ने ओर दिए गये फ़ोन नम्बरो की डिटेल पड़ताल ने ही सारे गोल माल ओर जेल में की जा रही चौथ बसुली की पोल खोल कर रख दी हैं शिकायतकर्ता एडवोकेड राजेन्द्र तोमर ने बताया कि अब इस पूरे मामले की जाँच जेल मुख्यालय के आला आधिकारीयों की टीम ओर थाना कोतवाली पुलिस अलग अलग कर रही हैं ओर इस जाँच रिपोर्ट से साबित हो गया हैं की जिला जेल टोंक में बंदियो को प्रताड़ित कर उनसे व उनके परिजनों से चौथ बसुली की जा रही थी ।

इस लिए निष्पक्ष जाँच होने के लिए अब ये अति आबशयक हैं की जेल के वर्तमान अधीक्षक बद्रीलाल जेलर सत्यनारायण व डिप्टी जेलर रामेश्वर जी को तत्काल उनके पदों से ओर टोंक जेल से हटा दिया जाए ताकि ये लोग आगे हो रही जाँच को बंदियो पर दवाब बना कर प्रभावित ना कर सकें ! साथ ही उन्होंने बताया की वो पहले ही इस प्रकरण की जाँच थाना कोतवाली पुलिस की बजाय सीबी सीआईड़ी या भ्रस्टाचार निरोधक ब्यूरो से कराने हेतु डीजीपी राजस्थान पुलिस ,आईजीपी अजमेर रेंज , पुलिस अधीक्षक टोंक सहित एसीबी के महानिरीछक दिनेश एमएन को पत्र लिख कर कर चूके हैं ! ये जाँच रिपोर्ट अब क्या रंग लाती हैं ये तो आने वाला समय ही बताएगा पर क़ानून के अन्य जानकर भी इस जाँच रिपोर्ट को इस पूरे प्रकरण के लिए एक महत्वपूर्ण व ठोस सबूत बता रहे हैं !  जरिकर्ता राजेंद्रसिंह तोमर अधिवक्ता दिल्ली हाई कोर्ट मो. न.- 9811371054/981895127




email: eradioindia@gmail.com || info@eradioindia.com || 09458002343

अगर आप भी अपना समाचार/ आलेख/ वीडियो समाचार पब्लिश कराना चाहते हैं या आप लिखने के शौकीन हैं तो आप eRadioIndia को सीधे भेज सकते हैं। इसके अलावा आप फेसबुक पर हमें लाइक कर सकते हैं और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं। मेरी वीडियोस के नोटिफिकेशन पाने के लिए आप यूट्यूब पर हमें सब्सक्राइब करें। किसी भी सोशल मीडिया पर हमें देखने के लिए टाइप करें कि eRadioIndia.

https://eradioindia.com/work-with-us/
Don't wait just take initiation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *