पुलिस ने दिनदहाड़े हुई हत्या का किया खुलासा, 3 हत्यारोपी गिरफ़्तार

0
48

  • फाईज़ अली सैफी || ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा गठित की गई विभिन्न टीमों ने दिनदहाड़े हुई हत्या का खुलासा करते हुए प्रकाश में आए तीन हत्यारोपीयों को गिरफ़्तार किया हैं। पुलिस को इनके पास से हत्या में प्रयुक्त स्प्लेंडर मोटरसाइकिल भी बरामद कर ली हैं। पुलिस को पकड़े गए अभियुक्तों की पहचान निखिल पुत्र वीरेंद्र उर्फ बिंदर, दूसरे की विनीत पुत्र विनोद और तीसरे की नितिन पुत्र जगदीश निवासी थाना लोनी गाज़ियाबाद के रूप में हुई हैं।

आपको बताते चलें कि लोनी थानाक्षेत्र की चिरोड़ी मार्केट में एक हलवाई का कार्य करने वाले व्यक्ति की दिनदहाड़े मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने गोली मार दी थी। जिसकी इलाज के दौरान मोहननगर के नरेंद्र मोहन अस्पताल में मौत हो गई थी। जिसके संबंध में मृतक मनोज कुमार के चाचा वादी घनश्याम दास पुत्र दीपक चंद्र निवासी थाना इंदिरापुरम ने स्प्लेंडर मोटरसाइकिल सवार अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध थाना लोनी में एक तहरीर दी थी।

गौरतलब है कि इस हत्याकांड के उपरांत एसएसपी कलानिधि नैथानी और एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन एवं क्षेत्राधिकारी लोनी समेत आदि मौके पर पहुंच गए थे तथा उन्होंने घटनास्थल का मौका मुआयना किया था। जिसको मद्देनज़र रखते एसएसपी कलानिधि नैथानी ने तीन टीमों का गठन किया था तथा जल्द से जल्द खुलासा करने को लेकर टीमों को निर्देशित भी किया था। जिसका अनुपालन करती पुलिस टीमों ने घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद आदि से अभियुक्त गणों की पहचान कर बागपत, गाज़ियाबाद, गौतमबुधनगर, दिल्ली में बराबर दबिश दी जा रही थी तथा अभियुक्त गणों की तलाश की जा रही थी। इसी क्रम में पुलिस टीमों ने रविवार सुबह ग्राम निठौरा स्थित खड़खड़ी रेलवे स्टेशन से तीन अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लिया हैं। जबकि, अन्य शेष अभियुक्त गण अभी फरार हैं, जिनकी गिरफ़्तारी का प्रयास जारी हैं।

पुलिस को पूछताछ में पकड़े गए अभियुक्त गणों ने बताया कि उनका एक गिरोह हैं तथा उन्होंने निर्णय लिया था कि वह लोनी क्षेत्र में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए वह एवं आतंक स्थापित करने के लिए हत्या करेंगे, जिससे कि लोग दहशत में आकर इनकी आर्थिक मांगे पूरी करेंगे। जिसके बाद अभियुक्त गणों की सहमति होने के पश्चात अभियुक्त निखिल ने पूरी योजना के तहत अभियुक्त शिवम से कहा था कि वह एक तमंचा और कारतूस का इंतजाम करेगा, जोकि उसने किया। जिसको मद्देनज़र रखते योजना के तहत अभियुक्त निखिल और विनीत ने चिरोड़ी जाकर पहले तो अवैध असलहे के बल पर एक मोटरसाइकिल लूटी और फिर मोटरसाइकिल के पीछे बैठे निखिल ने हलवाई की दुकान पर उतर कर उसके मालिक को तमंचे से गोली मार दी थी और फिर वह मौके से फरार हो गए थे।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम को 20 हज़ार रुपए का नगद पुरस्कार देने की घोषणा की हैं। वहीं, गिरफ़्तार करने वाली टीम में थाना लोनी से प्रभारी निरीक्षक बिजेंद्र सिंह भड़ाना, निरीक्षक अपराध ब्रहम कुमार त्रिपाठी, उपनिरीक्षक इकराम अली, रामप्रताप राघव, वरिष्ठ सिपाही अशोक कुमार, सिपाही विजय राठी, रमन खोखर, अजय पाठक, तो वहीं थाना मुरादनगर से उपनिरीक्षक जितेंद्र यादव, सिपाही नीरज कुमार, अनुज कुमार एवं एसपी ग्रामीण अधीक्षक कार्यालय की गठित टीम से उपनिरीक्षक राम मेहर सिंह, विपिन कुमार, वरिष्ठ सिपाही मनोज, सिपाही कुलदीप व विकास बालियान मौजूद रहे हैं।

Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com