गोरक्षनाथ प्रकटोत्सव दिवस: जानें एक लेखक के दिल की बात

Gorakhnath Prakatotsav Diwas: कल कुछ मित्रों/समाज बंधुओं ने फोन पर बताया कि हरियाणा में वसंत पंचमी को गोरक्षनाथ प्रकटोत्सव दिवस मनाए जाने की मांग को लेकर कुछ लोग हरियाणा के मुख्यमंत्रीजी से मिले और...

आत्मा शरीर धारण करने के लिए पूर्ण स्वतंत्र है: ओशो

तीसरा प्रश्न: भगवान, आत्मा शरीर धारण करने के लिए पूर्ण स्वतंत्र है, तो फिर अपंग, अंधे और लाचार बच्चों के पीड़ा से पूर्ण शरीर का चयन क्यों? अच्छा और सुख से भरा शरीर धारण कर...
Osho on Lau Tzu: वर्षों तक खोज में लगा रहा, सत्य की झलक न मिली

Osho on Lau Tzu: वर्षों तक खोज में लगा रहा, सत्य की झलक न...

Osho on Lau Tzu: लाओत्सु के जीवन में उल्लेख है: कि वर्षों तक खोज में लगा रहकर भी सत्य की कोई झलक न पा सका। सब चेष्टाएं कीं, सब प्रयास, सब उपाय, सब निष्फल...

आपका संदेश घर-घर पहुंचाना चाहता हूं कैसे करूं, सुनें ओशो ने क्या कहा?

🔴 प्रश्न:-- ओशो! मैं आपका संदेश घर-घर, हृदय-हृदय में पहुंचाना चाहता हूं पर लोग बिलकुल बहरे हैं, अंधे हैं। मैं क्या करूं? जो पाया है उसे पाकर न बांटू? यह भी संभव नहीं है।...

Osho Meditation Centre Lucknow || बीस वर्षों से संन्यासियों को समर्पित है ओशो ध्यान...

Osho Meditation Centre Lucknow: ओशो के ध्यान केंद्रों के लिए आप नीचे दिये गय नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं। Osho World,First floor, Karamat market, Nishatganj, Lucknow.Mobile: 9919761119, 9983336746E-mail (preferred): oshocamp@gmail.com Osho Meditation Centre21/214, Near Sherwood...

एक सम्राट की अनसुनी कहानी, ओशो की जुबानी

मैंने सुना है, एक सम्राट अपने कारागृह में गया। उसका जन्मदिन था, और कैदियों को कुछ मिठाई बांटने गया था। और हर कैदी ने कहा कि मै बिलकुल निर्दोष हूं महाराज! जालसाजी है, मुझे...
प्रेम के जगत में एकमात्र ही भटकाव है वह है धन है: भगवान रजनीश

प्रेम के जगत में एकमात्र ही भटकाव है, वह है धन: भगवान रजनीश

प्रेम के जगत में एकमात्र ही भटकाव है वह है धन है। यह बड़ी मनोवैज्ञानिक और बड़ी गहरी बात है। फरीद कह रहा है कि प्रेम से चूकने का एक ही उपाय है और...

डी एम मिश्र की ग़ज़लों में जन-संघर्ष एवं प्रतिरोध का स्वर

'लेकिन सवाल टेढ़ा है' जनधर्मी तेवर के वरिष्ठ एवं चर्चित गज़लकार डॉ डी एम मिश्र का बहुपठित गजल संग्रह है। अनुभव की भट्टी में पका 118 गजलों का यह संकलन अपनी विशिष्टता एवं सैद्धांतिकी...
error: Copyright: mail me to info@eradioindia.com