आजम खान का विकल्प बन रहे तनवीर अहमद, सपा को मिल सकेगी संजीवनी

  • लखनऊ।

समाजवादी पार्टी इन दिनों यूपी चुनाव को लेकर सबसे ज्यादा फिक्र मंद में नजर आ रही है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष खुद छोटे से छोटे कार्यकर्ताओं से संवाद कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ सपा के मुस्लिम चेहरे आजम खान के जेल जाने के बाद मुस्लिमों में सपा की प्रति गहरी नाराजगी देखने को मिल रही है।

इसी को देखते हुए समाजवादी पार्टी कई मुस्लिम चेहरों पर नजरें लगाए हुए हैं की आजम खान की खाई को कैसा पाटा जाए। मुस्लिम चेहरों के रूप में कई लोगों के नाम सामने आ रहे हैं लेकिन मुस्लिमों में सबसे बेहतर पकड़ आजम खान के बाद अगर देखी गई है

Advertisement

तो वह छत्तीसगढ़ के समाजवादी पार्टी प्रदेश अध्यक्ष तनवीर अहमद मैं देखी गई है। तनवीर अहमद की मुस्लिमों में गहरी पकड़ मानी जाती है। उनके बोलने का अंदाज और शालीनता लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करती हैं।

अगर समाजवादी पार्टी मुस्लिम चेहरे के रूप में 2022 के चुनाव में तनवीर अहमद को यूपी में उतारते हैं तो समाजवादी पार्टी के लिए नतीजे बेहतर हो सकते हैं और अन्य मुस्लिम चेहरों को यूपी के मुसलमानों के बीच पहुंचकर विश्वास दिलाना होगा कि समाजवादी पार्टी आपके साथ हैं।

आजम खान की वजह से मुस्लिमों के बीच में गहरी हुई खाई को समाजवादी पार्टी अगर तरतीब और सलाहियत से काम लेती है तो मुसलमानों की नाराजगी दूर हो सकती हैं, अगर हवा हवाई बातों पर विश्वास हुआ तो समाजवादी पार्टी को यूपी में नुकसान उठाना पड़ सकता है।

कुल मिलाकर देखा यह जाता है कि अगर छत्तीसगढ़ में तनवीर अहमद को मुसलमानों के बीच भेजा जाए तो समाजवादी पार्टी के लिए संजीवनी जैसा कार्य होगा।