What is Bareilly famous for? जानें पूरी जानकारी एक क्लिक पर

What is Bareilly famous for? जानें पूरी जानकारी एक क्लिक पर
What is Bareilly famous for? जानें पूरी जानकारी एक क्लिक पर

What is Bareilly famous for? बरेली शहर ने जरी से कारीगरी, बांस फर्नीचर से लेकर व्यापार के हर क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाई है। यहां का सुरमा भी किसी पहचान का मोहताज नहीं है। दूर-दूर से लोग यहां से सुरमा लेकर जाते हैं।बरेली उत्तर प्रेदश के राय बरेली जिले का एक बड़ा ऐतिहासिक शहर है।

यह राज्य के 8वें सबसे बड़े शहरों में गिना जाता है। रामगंगा नदी तट पर बसा यह शहर कभी रोहिलखंड की राजधानी हुआ करता था। इतिहास पर नजर डालें तो पता चलता है कि इस शहर का निर्माण मुगल काल के दौरान मकरंद राय ने करवाया था। जिसके बाद यह शहर रोहिल्लाओं की राजधानी बना। ये शहर ब्रिटिश प्रभाव क्षेत्र के अंतर्गत भी रह चुका है।

Advertisement

क्या आपने बरेली के इन खास स्थानों का भ्रमण किया है?

प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर

बरेली का यह प्रसिद्ध मंदिर शहर के प्रमुख देवता भगवान शिव को समर्पित है। जगन्नाथ मंदिर अपनी चित्रकला और मूर्तियों के साथ एक उत्कृष्ट वास्तुकला को प्रदर्शित करता है, जो करीब 200 साल पुरानी बताई जाती हैं। यहां की दीवारे भगवान शिव की गाथा गाते हैं। यहां बजने वाली घंटियां का आवाज किसी संगीत के समान लगती हैं। यह मंदिर हिन्दू धर्म से जुड़े लोगों के लिए मुख्य आस्था का केंद्र माना जाता है। यहां सुबह शाम होने वाली पूजा स्थानीय लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

बरेली घूमने आए पर्यटकों के मध्य ये मंदिर बहुत ही लोकप्रिय स्थान है। खास अवसरों के दौरान यहां भव्य आयोजन किए जाते हैं। अलखनाथ मंदिर जगन्नाथ मंदिर के अलावा शहर में अलखनाथ मंदिर भी एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर नागा साधुओं का बड़ा अड्डा माना जाता है। किसी भी समय अगर आप यहां दर्शन के लिए आएं तो नागा सन्यासियों को देख सकते हैं। बता दें कि नागा साधु भगवाव शिव के बड़े भक्त माने जाते हैं। सिर्फ यही एकमात्र स्थान नहीं आपको जहां-जहां भगवान शिव से जुड़े मंदिर दिखाई देंगे वहां आप नागाओं को जरूर पाओगे।

दरगाह-ए-आला हजरत

इसके अलावा आप बरेली में अहमद रजा खान की दरगाह के दर्शन भी कर सकते हैं। अहमद रजा खान ब्रिटिश काल के दौरान एक पहुंचे हुए विद्वान और न्यायवादी इंसान थे। दरगाह देखने में उतनी खास नहीं है, लेकिन इस स्थान का महत्व काफी ज्यादा है। यहा मुस्लिम धर्म से जुड़े लोग अहमद रजा खान की कब्र पर फूल और चादर चढ़ाने के लिए आते हैं। इतिहास के पन्ने उठाएं तो पता चलता है कि अहमद रजा ने अंग्रेजी काल के दौरान अपनी अलग पहचान बना रखी थी।

वे धर्म के ज्ञाता और काफी शिक्षित इंसान थे। इसके अलावा बरलेवी आंदोलन के दौरान वे एक मुख्य प्रचारक के रूप भी सामने आए। यह आंदोलन अलग-अलग बंटे मुस्लिम धर्मे के लोगों को एक करने के लिए उठाया बड़ा कदम था। अगर आप बरेली जाएं तो एक बार अहमद रजा खान की दरगाह पर माथा जरूर टेकें।

सेना संग्रहालय

बरेली में मंदिरों और मस्जिदों के अलावा सेना का एक संग्रहालय भी मौजूद है। जिसे आर्मी सर्विस कॉर्प्स मुस्लिम के नाम से जाना जाता है। यहां उन सेना के हथियारों को रखा गया है जिसका इस्तेमाल पुराने वक्त में किया जाता है। अगर आप इस संग्रहालय को देखने जाएं तो आपको आकर्षक आकार वाली बंदूकें दिखाई देंगी। इसके अलावा यह संग्रहालय सेना में तोपों की यात्रा और उनके विकास को भी भली भांति प्रदर्शित करता है। यहां उन लड़ाईयों को प्रदर्शनी के माध्यम से दिखाया गया है जो यहां के आसपास के इलाकों में घटी थीं।

तुलसी मठ

उपरोक्त स्थानों के अलावा यहां गोस्वामी तुलसीदास जी को समर्पित एक मठ भी स्थित है। तुलसीदास भारतीय पौराणिक काल के बहुत बड़े रचनाकार थे जिन्होने रामचरित्रमानस की रचना की थी। इन्होंने रामायण को सब के पढ़ने योग्य बनाया। दरअसल रामायण महर्षि वाल्मीकि द्वार लिखी गई थी, जिसका अनुवाद गोस्वामी तुलसीदास ने किया था। अपने मंदिरों के साथ बरेली धर्म-दर्शन की कई अनोखी जानकारी लेकर बैठा है।

What is Bareilly famous for? खाने में ये है खास

क्रेज़ी प्वाईंट – बरेली के सिविल लाईंस स्थित क्रेज़ी प्वाईंट यंग लड़के और लड़कियों के लिए बेस्ट फूड प्लेस में से एक है। पास के कॉलेज से छात्रों का समूह क्रेज़ी प्वाईंट आते हैं. यहां का चाईनीज़ खाना बहुत ज्यादा फेमस है. चिली पनीर और रेड मैक्रोनी खाकर आप यहां के खाने के दिवाने हो जाएंगे।

कीप्पस चाट कॉर्नर

बरेली के सिविल लाईंस मार्केट में कीप्पस चाट कॉर्नर मिलेगी। इनकी स्पेशल आलू टिक्की और पानीपुरी का स्वाद लोगों की ज़ुबान से नही उतरता है। आपको इनके बने खाने में देशी घी मिलेगा जिसके चलते लोगों को और स्वाद मिलता है।

फर्नस् बेकरी

बरेली के नवजवानों में फर्न बेकरी काफी फेमस है। 1972 से ये बेकरी चल रही है. ये बरेली में छात्रों की पसंदीदा जगह है। यहां की मटन और चिकन पेटीज़ का स्वाद सबसे ज्यादा फेमस है. यहां के केक और पेस्ट्री का स्वाद भी लोगों को पसंद है।

तोलाराम की कुल्फी

पंजाबी मार्केट में तोलाराम कुल्फी का ठेला मिलेगा। इनकी ख़ास बात है कुल्फी में फालूदा को मिलाकर देना और हर ब्रांड की आईसक्रीम का इस्तेमाल करना।

बरेली में झुमका गिरने की कहानी के बारे में जानना है

झुमका गिरा रे, बरेली के बाजार में. सास मेरी रोये, ननद मेरी रोये. सैंया रोये रे गले में बंइया डाल के…. सेब न्यूटन के लिए गिरा था, झुमका प्रेमियों के लिए गिरा था, पर ये झुमका बहुआयामी अर्थ रखे हुए है। इसकी वही महत्ता है जो सरकार गिरने की होती है, सेंसेक्स गिरने का होता है. ये झुमका भारत की इकॉनमिक व्यवस्था को दिखाता है. झुमका गिरा मतलब सोने का भाव गिरा। सास मेरी रोये, ननद मेरी रोये मतलब प्राइम मिनिस्टर से लेकर फाइनेंस मिनिस्टर तक सब रो रहे हैं।

1966 में बनी फिल्म मेरा साया में साधना के ऊपर ये गाना फिल्माया गया था. पर गीत में बरेली के बाज़ार का ज़िक्र क्यों आया? जबकि फ़िल्म की कहानी में दूर दूर तक बरेली का ज़िक्र नहीं है. पर इसके साथ एक कहानी है. बात उन दिनों की है जब दादा बच्चन, यानी कि मशहूर साहित्यकार हरिवंशराय बच्चन, और तेजी बच्चन एक दूसरे के नज़दीक आ रहे थे. ये दोनों लोग बरेली में रुके थे उस वक्त। एक शादी में आए थे। एक दिन इन लोगों से पूछा गया कि कब तक ये चलेगा।

भाई अब तो अपना प्यार स्वीकार कर लो. तो तेजी बच्चन ने कह दिया कि मेरा झुमका तो बरेली के बाजार में गिर गया. इस क़िस्से से राज मेहंदी अली खान साहब भी अच्छी तरह से वाक़िफ़ थे. मंटो के भी दोस्त थे मेहंदी. तो जब मेरा साया के गीत लिखने की बारी आई तो उन्हें अचानक यह क़िस्सा याद आ गया और उन्होंने गीत में हीरोइन के झुमके को बरेली में ही गिरा दिया।

बरेली क्यों प्रसिद्ध हैं ?

What is Bareilly famous for? धार्मिक महत्व के चलते बरेली का खास स्थान है। नाथ सम्प्रदाय के प्राचीन मंदिरों से आच्छादित होने के कारण बरेली को नाथ नगरी भी कहा जाता है। शहर में विश्व प्रसिद्ध दरगाह आला हजरत स्थापित है,जो सुन्नी बरेलवी मुसलमानों की आस्था का प्रमुख केंद्र है। इसलिए बरेली को “बरेली शरीफ”/शहर ए आला हज़रत भी कहते हैं।

ओशो की जीवन बदल देने वाली किताबें खरीदने के लिये यहां क्लिक करें-

osho booksa

पूरे देश में करें विज्ञापन सिर्फ 5 हजार में एक माह के लिये-

अगर आपके व्यवसाय, कम्पनी या #प्रोडक्ट की ब्राडिंग व #प्रमोशन अनुभवी टीम की देखरेख में #वीडियो, आर्टिकल व शानदार ग्राफिक्स द्वारा किया जाये तो आपको अपने लिये ग्राहक मिलेगें साथ ही आपके ब्रांड की लोगों के बीच में चर्चा होनी शुरू हो जायेगी।
साथियों, वीडियो और #आर्टिकल के माध्यम से अपने व्यापार को Eradio India के विज्ञापन पैकेज के साथ बढ़ायें। हम आपके लिये 24X7 काम करने को तैयार हैं। सोशल मीडिया को हैंडल करना हो या फिर आपके प्रोडक्ट को कस्टमर तक पहुंचाना, यह सब काम हमारी #एक्सपर्ट_टीम आपके लिये करेगी।

इस पैकेज में आपको इन सुविधाओं का लाभ मिलेगा-

  • आपकी ब्रांड के प्रचार के लिए 2 वीडियो डॉक्यूमेंट्री।
  • 2 सोशल मीडिया एकाउंट बनाना व मेंटेन करना।
  • 8 ग्राफिक्स डिज़ाइन की शुभकामना व अन्य संदेश का विज्ञापन।
  • फेसबुक विज्ञापन और Google विज्ञापन, प्रबंधन।
  • नियमित प्रोफ़ाइल को मेंटेन करना।
  • नि:शुल्क ब्रांड लोगो डिजाइन (यदि आवश्यक होगा तो)।
  • परफेक्ट हैशटैग के साथ कंटेंट लिखना और प्रभावशाली पोस्टिंग।
  • कमेंट‍्स व लाइक्स काे मैंनेज करना।
  • www.eradioindia.com पर पब्लिश की जाने वाली न्यूज में आपका विज्ञापन नि:शुल्क दिया जायेगा।
  • अभी ह्वाट‍्सअप करें: 09458002343
  • ईमेल करें: [email protected]