अपराध: पूर्व बसपा विधायक के भाई ने अपनी ही पत्नी को गोलियों से भून डाला, गिरफ्तार

49
ghaziabad mla
  • फाईज़ अली सैफी, ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। Lockdown 4.0: पारिवारिक कलह के चलते पूर्व बसपा विधायक के छोटे भाई आस-मोहम्मद द्वारा अपनी पत्नी को गोली मारकर हत्या कर दिए जाने का मामला प्रकाश में आया हैं। जिसको मद्देनज़र रखते पुलिस ने मुख्य आरोपी आस-मोहम्मद को तत्काल गिरफ्तार कर लिया हैं। इतना ही नहीं, पुलिस ने इसके पास से हत्या में प्रयुक्त एक तमंचा-कारतूस और एक खोखा भी बरामद कर लिया हैं। जबकि 3 नामजद आरोपी फरार हो गए हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए एक टीम का भी गठन किया हैं।

मुख्य आरोपी आस-मोहम्मद गिरफ्तार, अन्य 3 आरोपी फरार, घटना में प्रयुक्त तमंचा-कारतूस-खोखा बरामद

    आपको बताते चलें कि पूर्व बसपा विधायक/चेयरमैन वहाब चौधरी के छोटे भाई आस-मोहम्मद पुत्र हफीजुद्दीन निवासी थाना मुरादनगर कि शादी गत् 17 जनवरी वर्ष 2001 में सिकंदराबाद, बुलंदशहर निवासी शाहना के साथ हुई थी। ससुरालिया पक्ष का आरोप है कि आस-मोहम्मद आए-दिन उनकी पुत्री शाहना के साथ छोटी-मोटी गलतियों पर मार-पीट किया करता रहता था। इसके अलावा मृतका शाहना के पिता अब्दुल हमीद का कहना है कि उसकी पुत्री शाहना काफी महीने से पारिवारिक कलह के चलते अपने बच्चों समेत सिकंदराबाद उनके यहां यानी(अपने मायके) में ही रह रही थी। मृतका के पिता ने जानकारी देते हुए यह भी बताया कि वह ईद-उल-फितर से पहले अपनी पुत्री और उसके बच्चों को वह खुद ही उसकी ससुराल मुरादनगर छोड़कर आया था।

    आपको बता दें कि मंगलवार रात्रि समय करीब 9 बजे के लगभग पूर्व बसपा विधायक के आवास के एक कमरे में शाहना और उसकी पुत्री तूबा आपस में बेड पर एक दूसरे से बात-चीत कर रही थी कि इसी क्रम में कमरे के दरवाजे के खटखटाने की अचानक आवाज सुनाई दी, तो शाहना ने पूछा कि कौन है, तो शाहना के पुत्र आहद ने जवाब देते हुए कहा कि “अम्मी मैं हूं” दरवाजा खोल दीजिए।

    गौरतलब है कि वादिया तूबा पुत्री आस-मोहम्मद के मुताबिक जैसे ही उसकी मां शाहना ने दरवाज़ा खोला तो एकदम गोली चलने की आवाज आई, तभी वादिया ने दरवाज़े पर जाकर देखा तो उसकी मां शाहना के सर से खून बह रहा है और वह दरवाजे के फर्श पर घायल अवस्था में खून में लथपथ पड़ी हैं। वहीं, दूसरी तरफ गोली की आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोगों में अफरा-तफरी का सा भी माहौल हो गया था।

    दरअसल, हत्याकांड की सूचना मिलते ही एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन एवम् नवनियुक्त क्षेत्राधिकारी सदर गाज़ियाबाद धर्मेद्र सिंह चौहान एवं थाना मुरादनगर प्रभारी ओमप्रकाश सिंह समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। बता दें कि पुलिस ने मृतका शाहना के शव को अपने कब्जे में लेते हुए उसे पोस्टमार्टम के लिए संबंधित अस्पताल भेज दिया हैं, और मुख्य आरोपी आस-मोहम्मद को तत्काल ही गिरफ्तार कर उसके पास से हत्या में प्रयुक्त एक तमंचा(315), खोखा और एक कारतूस भी बरामद कर लिया हैं।

    वहीं, वादिया तूबा ने अपने पिता आस-मोहम्मद व अपने भाई आहद और अपने भाई के(दोस्त) समीर अंसारी पुत्र शहजाद समेत अन्य एक महिला तबस्सुम उर्फ भूरी को नामजद करते हुए इन चारों के विरुद्ध तहरीर दी हैं। जिसको मद्देनज़र रखते पुलिस ने नामजद चारों आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया हैं।

    एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन ने जानकारी देते हुए बताया कि हत्या की जानकारी मिलते ही पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर मृतका शाहना के शव को अपने कब्जे में ले लिया हैं और उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया हैं। इतना ही नहीं, एसपी ग्रामीण ने बताया कि मुख्य आरोपी आस-मोहम्मद से हत्या में प्रयुक्त अवैध असलहा भी बरामद कर लिया हैं। 

    वहीं, थाना मुरादनगर प्रभारी निरीक्षक ओमप्रकाश सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आस-मोहम्मद एक हिस्ट्रीशीटर अपराधी है, जिसके विरुद्ध कई दर्जन मुकदमें दर्ज हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने बात-चीत में बताया कि मृतका शाहना के सर के दाएं और गोली लगी है और उन्होंने बताया कि अभियुक्त आस-मोहम्मद के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करके इसको जेल भेज दिया हैं। फिलहाल, पुलिस मामले की गहनता से जांच करते हुए शेष तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही हैं।

    Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com