नही सुलझा टोल का झोल, कैंट में टोल पर दोबारा होगी बैठक

मेरठ। सांसद व विधायक की उपस्तिथि में कैंट बोर्ड की आज़ हुई बोर्ड बैठक में टोल का विषय आते ही बैठक गोपनीय करते हुए पत्रकारों को तो मीटिंग हॉल से बाहर कर दिया गया परंतु उस गोपनीय बैठक में भी टोल तीन वसूली केंद्रों के विषय मे कोई निर्णय नही लिया जा सका अब कल पुनः बोर्ड उक्त विषय मे मंथन करेगा। 

cantt board

बोर्ड की सम्पत्ति का बढ़ेगा किराया

बोर्ड बैठक में किराए पर दी गयीं सम्पत्तियों के किराए बढाने पर भी विचार किया गया जिसमे बोर्ड द्वारा किराए पर दी गयी सम्पत्तियों के किराए पुनर्निर्धारण करके आगामी 1 अप्रैल से नई पॉलिसी लागू किये जाने पर सहमति बनी ।

डोर टू डोर सफाई ठेका होगा रिव्यू

बैठक में घर घर कूड़ा उठाने हेतु दिया गया ठेका रिव्यू किये जाने पर सहमति बनी विदित हो के उक्त ठेके को इस बार पहले से ज्यादा मूल्य पर दिए जाने से चौतरफा विरोध प्रारम्भ हो गया था । जिसपर आज़ बोर्ड द्वारा उक्त ठेके को रिव्यू किये जाने पर सहमति बनी ।

Advertisement

मोबाईल टॉवर कनेक्टिविटी हेतु नोटिस

केंट क्षेत्र में मोबाईल कनेक्टिविटी हेतु टावर लगाने वाली कंपनी इंडस को सही प्रक्रिया पालन करने और सिग्नल सुचारू किये जाने हेतु नोटिस जारी किए जाने का निर्णय लिया गया ।

बाबा मेडिकल स्टोर का बकाया भुगतान किया जाएगा

केंट हॉस्पिटल के दवा सप्लायर बाबा मेडिकल स्टोर को उनके द्वारा वर्ष 2002 से 2006 के बीच सप्लाई की गई दवाओं के भुगतान को तत्कालीन सी ई ओ के सी गुप्ता द्वारा रोक दिया गया था और उक्त विषय मे जांच बैठा दी गयी थी। बाद में कुल चालीस लाख के बिलों में ढाई लाख के बिल फर्जी भी पाए गए थे । उक्त विषय मे सी बी आई द्वारा भी जांच की गई थी । अब बाबा मेडिकल स्टोर की ढाई लाख के अलावा बाकी रकम के भुगतान की मांग करने पर एक्ट मामला वर्तमान बोर्ड के समक्ष रखा गया जिसपर बोर्ड में बकाए भुगतान किए जाने पर सहमति बनी ।

टोल का झोल नही सुलझा

अंत मे पत्रकारों को मीटिंग हॉल से बाहर जाने का अनुरोध करके टोल के विषय पर गोपनीय बैठक की गई जो लगभग 1 घण्टा 20 मिनट चली । बैठक में शामिल हुए सांसद राजेन्द्र अग्रवाल व विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल द्वारा बाद में जानकारी दी गयी के आज़ की बैठक में टोल के विषय मे कोई निर्णय नही लिया जा सका । क्योंकि उक्त विषय मे बहुत से तकनीकी पहलू भी हैं जिनपर विचार किया जाना आवश्यक है । मामला कोर्ट के संज्ञान में भी है अतः उक्त विषय मे कल पुनः बैठक करके जनहित में कोई सार्थक निर्णय लिया जाएगा ।

बोर्ड की गोपनीय बैठक पर बोले सांसद

केंट बोर्ड की बैठक में किसी विषय पर गोपनीय बैठक किये जाने पर उठे सवाल के जवाब में सांसद राजेन्द्र अग्रवाल द्वारा बताया गया के संसद की कार्यवाही का तो सीधा प्रसारण किया जाता है परन्तु स्टैंडिंग कमेटियों आदि की बैठक भी गोपनीय ही रहती है अतः केंट बोर्ड में जब भी बोर्ड अध्यक्ष को गोपनीयता बनाये रखने की आवश्यकता महसूस हो वो बैठक को गोपनीय करके निर्णय की जानकारी पत्रकारों को दे सकते हैं क्योंकि मीडिया की मौजूदगी में कभी कभी राजनीतिक बयानबाज़ी ज्यादा हो जाती है जिससे मूल मुद्दे पर सार्थक चर्चा संभव नही हो पाती ।

ये हुए बैठक में शामिल

बैठक में बोर्ड अध्यक्ष अनमोल सूद , सांसद राजेन्द्र अग्रवाल विधायक सत्य प्रकाश अग्रवाल, मुख्य अधिशाषी अधिकारी प्रसाद चव्हाण , उपाध्यक्ष विपिन सोढ़ी , सदस्य रिनी जैन , बुशरा कमाल, बीना वाधवा, अनिल जैन , नीरज राठौर , मंजू गोयल, धर्मेंद्र सोनकर, एडम कमांडेंट जी ई साउथ व अन्य सैन्य अधिकारी, कार्यालय अधीक्षक बृजेश सिंघल , एकाउंटेंट सुधीर कुमार व रिवेन्यू अधीक्षक जय वीर तोमर शामिल हुए

Send Your News to +919458002343 email to [email protected] for news publication to eradioindia.com