मेरठ में 48 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने छोड़ी लोक सेवा आयोग की परीक्षा, कई सवालों ने उलझाया

मेरठ। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग प्रयागराज की सम्मिलित राज्य-प्रवर अधीनस्थ सेवा (प्रा.) परीक्षा 2022 रविवार को मेरठ सहित प्रदेश के 28 जिलों में चल रही है। मेरठ में 37 परीक्षा केंद्रों पर पंजीकृत कुल 17,323 परीक्षार्थियों में से प्रथम पाली में 48 प्रतिशत अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। पंजीकृत अभ्यर्थियों में से 8,955 ने परीक्षा दी जबकि 8,368 अभ्यर्थी प्रथम पाली में ही अनुपस्थित रहे। दूसरी पारी में भी यह अभ्यर्थी अनुपस्थित ही माने जाएंगे। इस परीक्षा में दोनों ही पालियों में वही अभ्यर्थी परीक्षा दे रहे हैं।
गहन छानबीन के बाद अभ्यर्थियों को मिला केंद्रों पर प्रवेश
लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सख्ती बरतते हुए जिले के केंद्रों पर परीक्षा में 12 सेक्टर मजिस्ट्रेट, हर केंद्र पर एक-एक यानी 37 स्टेटिक मजिस्ट्रेट और 37 आब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं। परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले तक ही प्रवेश दिया गया। इसलिए अभ्यर्थियों ने भी समय से परीक्षा केंद्र पर पहुंचना शुरू कर दिया था। केंद्रों पर तैनात शिक्षकों व पुलिसकर्मियों ने प्रवेश पत्र सहित अन्य जरूरी कागजातों की जांच करने के साथ ही तलाशी भी ली। अभ्यर्थियों के पास किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रानिक उपकरण कैलकुलेटर, स्लाइड रूल, मोबाइल फोन, इलेक्ट्रानिक घड़ी आदि के साथ सादा कागज, कापी, किताब, नोट, पत्रिका, खाद्य सामग्री, गुटका आदि मिलने पर उसे परीक्षा केंद्र के बाहर ही रखवा दिया गया।
मंडल के सभी जिलों से आए अभ्यर्थी
लोक सेवा आयोग की परीक्षा मंडल मुख्यालयों के साथ कुछ प्रमुख जिलों में हो रही है। मेरठ मंडल में मेरठ के अलावा गाजियाबाद में परीक्षा केंद्र बने हैं। मंडल के सभी 6 जिलों के परीक्षार्थी इन्हीं दो जिलों में परीक्षा देने पहुंचे हैं। वही सहारनपुर मंडल में भी सहारनपुर और मुजफ्फरनगर जिले में परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।
पीसीएस परीक्षा में कई सवालों ने उलझाया
सहारनपुर : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा संचालित पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा 2022 की प्रथम पाली में अभ्यर्थी कई सवालों में उलझे रहे। परीक्षा को लेकर केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। अभ्यर्थियों की जांच के बाद ही उन्हें केंद्र पर प्रवेश दिया गया। महानगर के 35 परीक्षा केंद्रों पर सुबह 9:30 बजे से 11:30 बजे तक प्रथम पाली की परीक्षा हुई केंद्रों पर प्रवेश के लिए अभ्यर्थियों का सुबह से पहुंचना शुरू हो गया था।
16 हजार से अधिक अभ्यर्थी पंजीकृत
प्रवेश पत्र की कड़ी जांच पड़ताल के बाद अभ्यर्थियों को केंद्रों पर प्रवेश दिया गया। प्रथम पाली में अभ्यर्थी की उपस्थिति सामान्य से कम बताई गई है, हालांकि अभी विभाग द्वारा आधिकारिक आंकड़े जारी नहीं किए गए। परीक्षा के लिए केंद्रों पर 16 हजार से अधिक अभ्यर्थी पंजीकृत थे। प्रत्येक केंद्र पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई थी। इसके अलावा 11 सेक्टर मजिस्ट्रेट भी बनाए गए थे। नगर मजिस्ट्रेट को परीक्षा केंद्रों की सुरक्षा का दायित्व का प्रभार सौंपा गया था। ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ पड़ोसी राज्यों से भी बड़ी संख्या में अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। परीक्षा की दूसरी पाली दोपहर 2:30 बजे से शाम 4:30 बजे तक चलेगी जिला विद्यालय निरीक्षक रविदत्त ने बताया कि सभी केंद्रों पर प्रथम पाली की परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई।

Advertisement