मोबाइलों टावरों से बैट्रियां चोरी करने वाले 5 गिरफ़्तार, 3 फरार

120
मोबाइलों टावरों से बैट्रियां चोरी करने वाले 5 गिरफ़्तार, 3 फरार
मोबाइलों टावरों से बैट्रियां चोरी करने वाले 5 गिरफ़्तार, 3 फरार
  • फाईज़ अली सैफी || ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने शातिर अपराधियों के विरुद्ध कड़ा रुख करते हुए उनकी गिरफ़्तारी के लिए जनपद के समस्त विभिन्न थाना क्षेत्रों में अभियान चलाया हुआ हैं। जिसके चलते थाना मसूरी पुलिस ने बृहस्पतिवार प्रातः चेकिंग के दौरान मिली मुखबिर की सूचना पर पांच शातिर अभियुक्तों को गिरफ़्तार करने में सफलता प्राप्त की हैं। वहीं, इनके तीन साथी अभी फरार चल रहे हैं, जिनकी तलाश की जा रही हैं। पुलिस को इनके पास से तीन अवैध चाकू, रांग की पचास सिल्लियां, नौ मोबाइल टावर सेल, छह बेट्रीयां एवं छह बेट्रीयों के कवर समेत हथोड़ा, पिलास, पेचकस व एक कटर समेत आदि सामान भी बरामद हुआ हैं।

पुलिस को पकड़े गए शातिर अभियुक्तों ने अपना नाम सिराजुद्दीन पुत्र अलीउल्ला, दूसरे ने आरिफ पुत्र जमशेद, तीसरे ने गुलवेद पुत्र साबिर, चौथे ने उमर पुत्र साबिर अली और पांचवें ने रहीस पुत्र अजी जुल्लाह निवासी थाना मसूरी गाज़ियाबाद बताया हैं। वहीं, पुलिस के सामने तीन शातिर अभियुक्तों के नाम ओर प्रकाश में आए हैं, जोकि वर्तमान में फरार हैं, जिनमें कबाड़ी भी हैं। जिनके नाम इस्लामुद्दीन पुत्र नवाब निवासी थाना कोतवाली नगर गाज़ियाबाद, दूसरे का जुनेद पुत्र मो तोफिक निवासी थाना खतौली मुज़फ्फरनगर और तीसरे का जावेद पुत्र रियाज निवासी थाना मसूरी गाज़ियाबाद बताया जा रहा हैं।

पुलिस के पूछताछ करने पर अभियुक्त गणों ने बताया कि उन्होंने गत् 30 दिसंबर को लोनी बॉर्डर थानाक्षेत्र एवम् 7 फरवरी को मसूरी थानाक्षेत्र के ग्राम रघुनाथपुर एवं 4 मार्च की रात्रि ग्राम कुशलिया स्थित मोबाइल टावरों से चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था। अभियुक्त गणों ने बताया कि उन्होंने गत् 9 फरवरी की रात्रि मोदीनगर थानाक्षेत्र व 14 फरवरी की रात्रि बुलंदशहर के अरनिया थानाक्षेत्र के ग्राम इसनपुर में स्थित मोबाइल टावरों से भी इसी तरह रात्रि में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था।

इतना ही नहीं, अभियुक्त गणों ने यह भी बताया कि उन्होंने गत् 4 फरवरी की रात्रि थाना शाहपुर मुजफ्फरनगर के ग्राम निरमानी एवम् 2 मार्च की रात्रि थाना जानी मेरठ के ग्राम मुर्शदपुर एवं 23 जनवरी की रात्रि थाना जाली मेरठ के ग्राम फैजाबाद से भी अभियुक्त गणों ने इसी तरह मोबाइल टावरों से बेट्रीयां और सैल चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया हैं।

एसपी ग्रामीण ईरज राजा ने जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गए अभियुक्त गण शातिर किस्म के अपराधी हैं, जोकि कम पढ़े लिखे हैं। यह गिरोह संगठित होकर मोबाइल टावरों की बेट्रीयां और सैल चोरी किया करते हैं तथा चोरी किए गए माल को गला कर उनकी सिल्लियां आदि बनवा लिया करते हैं और फिर उनको कबाड़ियों को बेच दिया करते हैं तथा अवैध रूप से धन अर्जित किया करते हैं।

एसपी ग्रामीण ने यह भी बताया कि पकड़े गए शातिर अभियुक्तों में से चार चोर और एक कबाड़ी हैं, जोकि इनसे चोरी का माल खरीदा करता था। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार अभियुक्त गणों के विरुद्ध एक दर्जन के करीब मुकदमें जनपद गाज़ियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर और मुज़फ्फरनगर में दर्ज हैं। पुलिस ने पकड़े गए अभियुक्तों के विरुद्ध कानूनी-कार्रवाई करके इनको जेल भेज दिया हैं। वहीं, इनके फरार तीनों साथियों की तलाश शुरू कर दी हैं जल्द ही वह भी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

बता दें कि इस गिरोह का पर्दाफाश करने वाली टीम में थाना मसूरी प्रभारी निरीक्षक शैलेंद्र प्रताप सिंह, उपनिरीक्षक अनिल कुमार, सोनू कुमार, शिवमंगल सिंह, वरिष्ठ सिपाही विपिन, सिपाही कुलदीप और सिपाही मोहित कुमार भी मौजूद रहे हैं।