सावधान! मात्र तीन घंटे में कबाड़ बना दी जाएगीं कारें

संवाददाता, नई दिल्ली। अगर आपके पास कार है और आपकी आदत है लगातार घूमते रहने का तो एक बार इस पूरी खबर को ध्यान से देखें। मारूती सुजुकी ने एक ऐसा प्लान बनाया है कि आपकी कारों को सिर्फ तीन घंटे में स्क्रैप बना दिया जाएगा।

सरकार की हाल में घोषित व्हीकल स्क्रैप पॉलिसी के अनुसार ही भारत की कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने टोयोटा के साथ मिलकर अपना पहला व्हीकल स्क्रैप सेंटर खोला है।
केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को स्क्रैप सेंटर के उद्घाटन की जानकारी ट्वीट कर दी। आपको बता दें कि, करीब 44 करोड़ रुपये के निवेश से बने मारुति के इस स्क्रैप सेंटर पर हर महीने करीब 2,000 गाड़ियों को कबाड़ में तब्दील किया जा सकेगा।

Advertisement

क्या बोले नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि पुरानी गाड़ियां नई गाड़ियों के मुकाबले अधिक प्रदूषण करती हैं, ऐसे में पुरानी गाड़ियों को हटाने की जरूरत है और वाहन कबाड़ नीति प्रदूषण को नियंत्रित करने के अहम उपायों में से एक है। सरकार को उम्मीद है कि स्क्रैप पॉलिसी से गाड़ियों की बिक्री 10-12% बढ़ेगी।

मारुति का ये स्क्रैप सेंटर काफी अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी से लैस है और इस सेंटर पर सिर्फ 3 घंटे से कुछ अधिक की अवधि में ही एक कार को पूरी तरह से कबाड़ में बदला जा सकता है। इस पॉलिसी के हिसाब से 20 साल पुराने पर्सनल व्हीकल और 15 साल पुराने कमर्शियल व्हीकल को फिटनेस टेस्ट से गुजरना होगा। अगर वो सरकार द्वारा तय मानदंड पर फिट नहीं उतरते हैं तो उन वाहन को स्क्रैपिंग के लिए भेज दिया जाएगा। हालांकि वाहन को स्क्रैप पर करने पर गाड़ी के मालिक को नई गाड़ी खरीदने के लिए कई लाभ भी मिलेंगे।