कोरोना के ग्राफ से तय होगी शेयर बाजार की दिशा

मुंबई, एजेंसी। कोविड-19 के संक्रमण की रफ्तार सुस्त पड़ने और स​क्रिय मामलों में कमी से घरेलू शेयर बाजारों में बीते सप्ताह जबरदस्त तेजी रही। आने वाले सप्ताह में भी बाजार की नजर कोविड के ग्राफ पर रहेगी।

महामारी के नये मामलों में गत एक सप्ताह के दौरान खासी कमी आयी है हालांकि अब भी हर दिन सबसे अधिक मामले भारत में आ रहे हैं। ये घटकर ढाई लाख के आसपास रह गये हैं। सक्रिय मामलों में भी कमी आने से विभिन्न राज्यों द्वारा लगाये गये प्रतिबंधों में ढील दिये जाने की उम्मीद बंधी है। निवेशकों में विश्वास जगा है कि अर्थव्यवस्था तेजी से वापसी करेगी। कोविड-19 के मामलों में इसी तरह गिरावट बनी रही तो शेयर बाजार का ग्राफ ऊपर की ओर जा सकता है।

Advertisement

समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान बाजार में चौतरफा लिवाली रही। बैंकिंग एवं वित्तीय क्षेत्र की कंपनियों में निवेशकों ने जमकर पैसा लगाया। प्रमुख सूचकांकों सेंसेक्स और निफ्टी के लिए बीता सप्ताह उतार-चढ़ाव भरा रहा। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स अंतत: 1,807.93 अंक यानी 3.71 प्रतिशत की साप्ताहिक तेजी के साथ 50,540.48 अंक पर पहुंच गया। पांच में से तीन कारोबारी दिवस सेंसेक्स में तेजी रही जबकि बुधवार और गुरुवार को यह ​लाल निशान में बंद हुआ था।

निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स जैसा ही रहा। यह 497.50 अंक यानी 3.39 प्रतिशत की बढ़त में सप्ताहांत पर 15,175.30 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में मझौली और छोटी कंपनियों के सूचकांक पांचों दिन बढ़त के साथ बंद हुये। पूरे सप्ताह के दौरान मिडकैप 899.75 अंक यानी 4.39 प्रतिशत चढ़कर 21,485.75 अंक पर पहुंच गया। स्मॉलकैप भी 929.86 अंक यानी 4.19 फीसदी की साप्ताहिक मजबूती के साथ 23,130.40 अंक पर बंद हुआ।