गाजियाबाद: थाना मसूरी व आबकारी टीम को कामयाबी कई हिरासत में

267
  • फाईज़ अली सैफी || ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। एसएसपी कलानिधि नैथानी और एसपी ग्रामीण ईरज राजा के आदेश अनुसार देहात थानाक्षेत्रों में अवैब तस्करों के विरुद्ध अभियान चलाया हुआ हैं। जिसको मद्देनज़र रखते हुए थाना मसूरी पुलिस और आबकारी टीम ने बृहस्पतिवार देर रात्रि मुखबिर की सूचना पर पेरीफेरल एक्सप्रेसवे सुंदरदीप के पास से दो शराब तस्करों को गिरफ़्तार किया हैं। पुलिस को इनके पास से 225 लीटर अवैध शराब और एक कार बरामद हुई हैं।

आपको बताते चलें कि नववर्ष को लेकर जनपद पुलिस पहले से ओर ज़्यादा मुस्तैद थी कि तभी मुखबिर द्वारा सूचना मिली की एक कार सवार दो तस्कर पेरीफेरल एक्सप्रेसवे से गुजरने वाले हैं, तो थाना मसूरी पुलिस और आबकारी टीम ने अपनी कमर कस ली, जिसको मद्देनज़र रखते हुए वाहन चेकिंग शुरू कर दी गई। हालांकि, जैसे ही टीमों ने मुखबिर द्वारा बताई गई एक कार को रोकने का प्रयास किया तो कार सवार चालक ने कुछ ही दूरी पर कार को रोक लिया और वापस मोड़कर वहां मौके से फरार होने का प्रयास करने लगे। यह नज़ारा अपनी आंखों से देख टीमों ने कार की घेराबंदी कर दी और दोनों कार सवार व्यक्तियों को मौके पर ही दबोच लिया।

गौरतलब है कि मौके पर मौजूद टीमों ने जैसे ही कार की तलाशी ली तो उन्हें कार में अवैध शराब की सैकड़ों बोतले लदी हुई मिली, जोकि दिल्ली मार्क की थी। इतना ही नहीं, कार का नंबर वेरीफाई किया तो पुलिस को किसी तरह की कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई, क्योंकि वह नंबर फर्जी था। पुलिस ने तत्काल दोनों कार सवारों को मौके पर ही गिरफ़्तार कर लिया और उन्हें थाने ले आई। पुलिस को पकड़े गए अभियुक्तों की पहचान सत्यपाल पुत्र राम मेहर निवासी थाना बरोदा सोनीपत और दूसरे की सनी पुत्र शिव कुमार निवासी थाना खरखोदा पानीपत हरियाणा बताया हैं।

थाना मसूरी प्रभारी निरीक्षक राघवेंद्र सिंह और आबकारी निरीक्षक सुरेंद्र कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि अभियुक्त गणों के पास से अवैध शराब की 300 बोतलें बरामद हुई हैं, जोकि 225 लीटर हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने बताया कि इस शराब की कीमत लगभग डेढ़ लाख रुपए हैं। वहीं, अभियुक्त गणों पकड़ने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक राघवेंद्र सिंह व उनकी टीम के उपनिरीक्षक लोकेश कुमार, वरिष्ठ सिपाही सत्येंद्र बालियान, सिपाही अजय कुमार और आबकारी निरीक्षक सुरेश कुमार व उनकी टीम भी मौजूद रही हैं।

Previous articleHello world!
Next articleTrump sought to buy vaccine developer exclusively for US, say German officials
पत्रकारिता में बेदाग 11 वर्षों का सफर करने वाले युवा पत्रकार त्रिनाथ मिश्र ई-रेडियो इंडिया के एडिटर हैं। उन्होंने समाज व शासन-प्रशासन के बीच मधुर संबंध स्थापित करने व मजबूती के साथ आवाज बुलंद करने के लिये ई-रेडियो इंडिया का गठन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here