Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये काटा हंगामा

पिछले दिनों सेव इंडिया जन-फाउण्डेशन ने शुरू किया था चिपको आंदोलन, धीरे-धीरे आंदोलन पकड़ रहा जोर

Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये काटा हंगामा
Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये काटा हंगामा
  • मनोज मिश्र || मेरठ

मेरठ चौधरी चरण सिंह कांवड़ मार्ग गंग नहर पर सड़क बनाने को लेकर 6 हजार पेड़ों का कटान को लेकर जागरूक नागरिक एसोसिएशन (Jagrook Nagrik Association) लोगों का हंगामा, आपको बताते चलें कि वर्षों से राज्य सरकार द्वारा आयोजित वन महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत शासन के आदेश अनुसार युद्ध स्तर पर हर वर्ष वृक्षारोपण किया जाता है।

गत वर्ष मेरठ जनपद में एक ही दिन में करीब एक लाख 80 हजार वृक्ष रोपित किए गए थे अतः नव निर्माण कार्यों के लिए उन वृक्षों की बलि चढ़ाना क्या सरकार के स्वयं के आदेशों की खिल्ली उड़ाना नहीं है? यह कहां तक न्याय संगत है? पर्यावरण संरक्षण हेतु पूर्व में लगाए गए हजारों वृक्ष जिनके द्वारा हरित क्रांति की और सकारात्मक और सार्थक प्रयास हुए उन्हें समाप्त कर देना मानव जाति ही नहीं बल्कि वन्य जीव जंतुओं के लिए भी बेहद हानिकारक है।

Advertisement
Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये काटा हंगामा
Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये सौंपा गया ज्ञापन।

Jagrook Nagrik Association के पदाधिकारियों ने कही ये बात

जहां चौधरी चरण सिंह कांवड़ मार्ग मेरठ (Chaudhary Charan Singh Kanwad MArg) में गंग नहर की दाई पटरी को बनाने के लिए लगभग छः हजार पेड़ों को काटने जा रहे हैं, इसलिए आज हमने कमिश्नरी चौराहे पर वृक्षारोपण को बढ़ाना और वृक्षों के कटान रोकने के लिए धरना प्रदर्शन कर रहे हैं और हम वहां पर पेड़ों को नहीं काटने देंगे। कांवड़ मार्ग पर सावन के महीने में श्रद्धालु गंगा जल लेकर उस मार्ग से आते हैं और यह 15 दिन का प्रोग्राम होता है तो जिस प्रकार से अब तक श्रद्धालु आ रहे हैं उसी प्रकार से ही वहां से गुजरे, क्योंकि हम नहीं चाहते कि यहां किसी भी प्रकार के वृक्षों का कटान हो, वृक्षों को काटने से अलग और भी बहुत सारे विकल्प हैं उन्हें चुनें।

Jagrook Nagrik Association ने पेड़ कटान रोकने के लिये काटा हंगामा
विरोध प्रदर्शन के दौरान पेड़ों के रूप में नजर आये लोग।

Jagrook Nagrik Association के पदाधिकारियों ने बताया कि, हमने माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर जिला अधिकारी मेरठ को सौंपा गया है अतः हम चाहते हैं कि इन पेड़ों की बलि ना दी जाए अगर ऐसा होगा तो हम इससे भी कड़ा धरना प्रदर्शन करेंगे और कांवड़ मार्ग गंग नहर से  पेड़ों को नहीं कटने देंगे।

PUPSVM
image description
CM Arogya Mela Yojana