MIET Meerut News: छात्र को घोंपे दनादन चाकू

मेरठ के MIET कॉलेज में खूनी संघर्ष, बीटेक छात्र की चाकू से गोदकर हत्‍या

MIET Meerut News: छात्र को घोंपे दनादन चाकू, कोई बचाने न आया
MIET Meerut News: छात्र को घोंपे दनादन चाकू, कोई बचाने न आया

MIET Meerut News: मेरठ के जानी थाना क्षेत्र में हाईवे पर एमआईईटी इंजीनियरिंग कॉलेज में बुधवार सुबह बीटेक छात्र की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। घटनास्थल से फरार होने का प्रयास कर रहे दो आरोपियों को सिक्योरिटी ने दबोच लिया। सूचना के बाद मौके पर हड़कंप मच गया।

बागपत के बड़ौत क्षेत्र के शिकोहपुर गांव निवासी निखिल तोमर मेरठ में एमआईईटी इंजीनियरिंग कॉलेज (MIET Meerut News) में बीटेक मैकेनिकल का छात्र था। निखिल और उसके साथियों का कुछ दिन पहले ही कॉलेज में कुछ अन्य छात्रों से विवाद हुआ था। बुधवार सुबह भी क्लास में घुसने को लेकर इन्हीं छात्रों से दोबारा निखिल पक्ष की कहासुनी हो गई।

Advertisement

आरोपी छात्रों ने मिलकर निखिल और उसके साथियों पर हमला कर दिया। इस दौरान आरोपियों ने चाकू से निखिल पर ताबड़तोड़ वार किए और गंभीर घायल कर दिया।

निखिल को सुभारती अस्पताल (Subharti Hospital Meerut) ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस दौरान घटनास्थल से फरार होने का प्रयास करते 2 आरोपी छात्रों को सिक्योरिटी ने दबोच लिया। सूचना के बाद एसपी देहात केशव कुमार और सीओ सरधना मौके पर पहुंचे। फिलहाल आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

person s hands covered with blood
MIET Meerut News: छात्र को घोंपे दनादन चाकू, कोई बचाने न आया

घटनास्थल पर फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया है। मृतक छात्र पर आरोपी छात्रों ने 20 से भी ज्यादा वार किए। काफी देर चले इस खूनी खेल में मृतक छात्र को कोई भी बचाने नहीं आया। बताया गया कि इससे पहले मृतक छात्र को कॉलेज में दौड़ाकर कर पीटा गया। घटना के बाद कॉलेज में पुलिस तैनात कर दी गई है।

MIET Meerut News: परिजनों मे मचा कोहराम

मृतक निखिल पुत्र पुष्पेन्द्र उर्फ पप्पू निवासी जनपद बागपत, गांव शिकोहपुर का रहने वाला था। निखिल पिछले दो साल से मेरठ में रहकर ही पढ़ाई कर रहा था। वह बीटेक सेकंड ईयर का छात्र था। मृतक दो भाई और एक बहन थे।

मृतक का भाई मुकुल गांव में रहकर खेती करता है, जबकि बहन शिवानी बीए में पढ़ रही है। मां का नाम रेखा है। निखिल की हत्या की सूचना पर परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर सभी मेरठ रवाना हो गए। गांव में निखिल के पड़ोसियों ने बताया कि निखिल काफी व्यवहार कुशल था और वह बीच बीच में गांव में आता रहता था।