Mrt 3 jpg webp

बजेगी सीटी और उठेगा कूड़ा, कितनी कारगर होगी यह नई व्‍यवस्‍था

0 minutes, 0 seconds Read

मेरठ। मेरठ के मोहल्ले में गाना बजाते हुए कूड़ा गाड़ी तो पहुंचेगी ही, साथ में हेल्पर घर के बाहर से सीटी भी बजाएगा। कचरे से भरा डस्टबिन लेगा और उसे कूड़ा गाड़ी में खाली करेगा। डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के लिए कंपनी ने यह व्यवस्था लागू कर दी है। बुधवार को बीवीजी इंडिया लिमिटेड कंपनी ने सभी हेल्परों को एक-एक सीटी वितरित की। वहीं, पुणे महाराष्ट्र से पहुंची कंपनी की तीन सदस्यीय टीम ने कई वार्डों में सर्वे और कूड़ा कलेक्शन का काम देखा। यह टीम दो सप्ताह यहां रुककर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कराएगी।
क्यूआर कोड चस्पा करने का काम देखा
पुणे की तीन सदस्यीय टीम में कंपनी के प्रशासनिक कार्य, आइटी और मेंटीनेंस कार्य के एक्सपर्ट शामिल हैं। टीम के सदस्यों ने साकेत और सिविल लाइंस में क्यूआर कोड चस्पा करने और कूड़ा कलेक्शन का काम देखा और लोगों से बात की है। टीम के सदस्यों ने बताया कि कुछ भवन स्वामी ऐसे भी मिले जो घर के बाहर क्यूआर कोड चस्पा कराने के पक्ष में नहीं हैं। उन्हें इसके लिए तैयार किया जाएगा। प्रत्येक घर पर क्यूआर कोड चस्पा होगा।
समय सारिणी तैयार
मोबाइल एप पर भवन स्वामी का ब्योरा भी दर्ज किया जा रहा है। यह दोनों काम निरंतर चलते रहेंगे। इसके अलावा कूड़ा गाड़ी का रूट चार्ट, मोहल्ले वार समय सारिणी तैयार हो रही है। जो कूड़ा गाड़ी पर चस्पा की जाएगी। शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर कूड़ा गाड़ी में अंकित किया गया है। दोपहर में अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार ने भी कूड़ा कलेक्शन का निरीक्षण किया। रूट चार्ट और समय सारिणी तैयार करने के निर्देश दिए।
दो सप्ताह में दुरुस्त होंगी व्यवस्थाएं
पुणे महाराष्ट्र से आए टीम के सदस्यों ने कहा कि अभी शुरुआत हुई है। दो सप्ताह में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन की व्यवस्थाएं पटरी पर आएंगी। सूरजकुंड वाहन डिपो में कंट्रोल रूम का निर्माण चालू है। गाडिय़ां जीपीएस से लैस होगीं। कंट्रोल रूम में ट्रैकिंग सिस्टम से डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन की मानीटरिंग की जाएगी। गाडिय़ों के मेंटीनेंस के लिए कंपनी का मेंटीनेंस वर्कशाप भी इसी महीने तैयार हो जाएगा। प्रत्येक घर पर क्यू आर कोड चस्पा करने व भवन स्वामी का ब्यौरा मोबाइल एप पर दर्ज करने का काम तेजगति से किया जाएगा।
दूसरे दिन 10 वार्ड के 70 प्रतिशत घरों से हुआ कूड़ा कलेक्शन
बीवीजी इंडिया लिमिटेड कंपनी ने प्रथम चरण में शामिल 25 में से 10 वार्डों से कूड़ा कलेक्शन की शुरुआत की है। बुधवार को 10 वार्ड में 70 प्रतिशत घरों से कूड़ा कलेक्शन का दावा किया है, जबकि मंगलवार को 65 प्रतिशत घरों से कूड़ा कलेक्शन हुआ था। पांच प्रतिशत कवरेज अधिक रहा। बुधवार को तीन के बजाए डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन की गाडिय़ों ने चार चक्कर लगाए। गंगानगर क्षेत्र के चार वार्डों को कूड़ा गंगानगर पानी की टंकी के पास ढलावघर और सिविल लाइंस क्षेत्र व आसपास के छह वार्डों को कूड़ा सूरजकुंड ढलावघर पहुंचा। यहां से लोहिया नगर डंपिंग ग्राउंड भेजा गया। 10 वार्ड अंतर्गत साकेत, सिविल लाइंस, पांडव नगर, गंगानगर आदि प्रमुख क्षेत्र शामिल हैं। शास्त्रीनगर और जागृति विहार क्षेत्र में बुधवार को कूड़ा कलेक्शन की शुरुआत नहीं हो सकी। गुरुवार से यहां कूड़ा कलेक्शन होगा।

author

Santram Pandey

पत्रकारिता के 40 बसंत पार कर चुके संतराम पांडे, पूर्णकालिक पत्रकार हैं और खाटी पत्रकारिता के जीवंत उदाहरण स्वरूप अंकुरित प्रतिभाओं को सहयोग प्रदान कर रहे हैं। वर्तमान में ई-रेडियो इंडिया के वरिष्ठ संपादक हैं।

Similar Posts

error: Copyright: mail me to info@eradioindia.com