होम देश उत्तर प्रदेश अतिक्रमण के खिलाफ योगी सरकार सख्त

अतिक्रमण के खिलाफ योगी सरकार सख्त

गौतमबुद्धनगर में 1000 अवैध फार्म हाउस पर चल सकता है बुलडोजर
नोएडा। नोएडा प्राधिकरण ने यमुना नदी के डूब क्षेत्र में बने एक हजार फार्म हाउसों पर शुक्रवार को नोटिस चस्पा किया। फार्म हाउस संचालकों को चेतावनी दी गई कि वह पंद्रह दिन के अंदर स्वयं निर्माण हो हटा ले, अन्यथा इसके बाद प्राधिकरण कार्रवाई करेगा। इस दौरान होने वाले खर्च को फार्म हाउस संचालकों से ही वसूला जाएगा।
शुक्रवार को नोएडा प्राधिकरण के भूलेख विभाग और वर्क सर्किल की संयुक्त टीम यमुना के डूब क्षेत्र में पहुंची और एक-एक कर एक हजार फार्म हाउसों पर नोटिस चस्पा किया।
प्राधिकरण ने अब तक 77 फार्म हाउसों को ध्वस्त करने का दावा किया है। इसमें पहले सेक्टर-135 नंगली वाजिदपुर, नंगला नंगली गांव की जमीन पर बने फार्म हाउसों पर भी नोटिस चस्पा किया गया था।
2013 में भी जारी की गई थी सार्वजनिक सूचना
फार्म हाउसों का निर्माण 20 सालों से किया जा रहा है। तत्कालीन प्राधिकरण सीईओ व चेयरमैन के निर्देश पर 2013 में भी सर्वे रिपोर्ट के आधार पर नोटिस चस्पा किए गए थे। उसके बाद प्राधिकरण स्तर से फिर कभी कोई कार्रवाई नहीं की गई। पिछले पांच वर्षों में प्राधिकरण अधिकारी फार्म हाउसों की तरफ आंख मूंदे रहे।
एक जून से चल रहा है अभियान
मीडिया के द्वारा अवैध फार्म हाउसों के खिलाफ अभियान चलाए जाने के बाद प्राधिकरण की नींद टूटी। सबसे पहले एक जून को सेक्टर-150 स्थित तिलवाड़ा व गुलावली गांव में अवैध रूप से बने सैनिक फार्म हाउस पर कार्रवाई की गई। एक जून को एक लाख 20 हजार वर्गमीटर जमीन पर बने 55 फार्म हाउस को प्राधिकरण ने तोड़ दिया। इसके बाद आठ जून को प्राधिकरण ने दूसरी बड़ी कार्रवाई कर असदुल्लापुर में 15 और अवैध फार्म हाउस को तोड़ दिया।

error: Copyright: mail me to [email protected]
%d bloggers like this: