पिछले दस वर्षों से टूटी सड़क पर दौड़ने को मजबूर है जनता, अधिकारी-नेता बने मूकदर्शक

81

सुल्तानपुर(eredio)। उत्तर प्रदेश का सुलतानपुर जिला वैसे तो कई पौराधिक कथाओं की वजह से बेहद प्रसिद्धि पा चुका है लेकिन लगता है कि यहां की प्रसिद्धि को दीमक की तरह अधिकारी और नेता चाट जायेंगे…

विकास के नाम पर वोटों पर डाका डालने वाले नेताजी और जनता के टैक्स देने के बाद बनाई गयी योजना में सेंधमारी करने वाले अधिकारियों ने अब ठान लिया है कि भई वो तो सुधरने वाले नहीं हैं…

ये है कांदीपुर विधानसभा क्षेत्र के बांगर खुर्द गांव की सड़कों का हाल… स्थानीय विधायक भी इसी सड़क पर दर्जनों चक्कर लगाकर वोट मांगने जाते हैं… अधिकारी सरकारी योजनाओं की पड़ताल भी इन्हीं सड़कों पर चलकर करते हैं… लेकिन उनका ध्यान इस ओर नहीं जाता कि यहां के लोग इन सड़कों पर चलते कैसे हैं?

जन जाग्रति कल्याण समिति के अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी ने जरूर इसके लिये प्रयास किया है.. जो शायद भर में एक आध बार ही इस सड़क से गुजरते होंगे…. उन्होंने इसकी मरम्मत के लिये कई बार प्रदेश सरकार से लेकर संबंधित अधिकारियों तक को पत्र लिखा है…

पिछले दिनों क्षेत्र के जेई …ने देवेंद्र को सूचना दी कि जिस सड़क के निर्माण के लिये शिकायत की गई थी उसका टेंडर पास हो गया है… अच्छी खबर जरूर है लेकिन एक सवाल अब भी है कि क्या शहाबुद्दीनपुर से बांगर खुर्द सम्पर्क मार्ग के निर्माण कार्य में पूरी इमानदारी बरती जायेगी… इसकी क्या गारन्टी है कि इस निर्माण में कोई भ्रष्टाचार नहीं होगा…?

Send Your News to +919458002343 email to eradioindia@gmail.com for news publication to eradioindia.com