ChandraShekhar Ravan in Meerut: रावण का बड़ा एलान

134

ChandraShekhar Ravan in Meerut: जैसे जैसे 2021 के दिन ढल रहे हैं ठीक वैसे ही राजनीतिक पार्टियों के दिलों की धड़कने तेज हो रहीं हैं। यूपी में चुनाव की आहट से अपने-अपने जातिवादी तिलिस्म को मजबूत करने के लिए पार्टियों के नुमाइंदे शहरों में खाक छान रहे हैं। भाजपा, सपा, बसपा और कांग्रेस के लोग ताबड़तोड़ बैठकें कर रहे हैं। इन्हीं सबके बीच एक और पार्टी तेजी से अपने समाज की बस्तियों में भ्रमण करती नजर आ रही है।

जी हां हम बात कर रहे हैं आजाद समाज पार्टी और उनके संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण की। रावण की गर्जना और उनके तर्कों की वजह से अच्छे-अच्छे सियासी सूरमाओं का ‘बैकग्राउंड’ खराब हो जाता है। कई बार तो राजनीतिक बालकों के मुंह ये यह भी सनते हुये देखा गया है कि…भैया गलती से मुंह से निकल गया…

ChandraShekhar Ravan in Meerut: क्या तलाश रहे सियासी जमीन

आज़ाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर उर्फ रावण मेरठ (ChandraShekhar Ravan in Meerut) पहुंचे। यहां उन्होंने शेरगढ़ में बाबू जगजीवन राम की मूर्ति का अनावरण किया। अपने उद्बोधन में उन्होंने भाजपा सरकार हमला किया और कहा कि आजाद समाज पार्टी अपने समाज की रक्षा के लिए सदैव तत्पर है। बाबू जगजीवनराम के आदर्शों को भी अपनाने की बात कही तो वहीं बार्डर पर बैठे किसानों को समर्थन देते हुये उन्हें सहयोग करने की बात कही।

शेरगढ़ी से अगला पंड़ाव, चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय का था जहां रावण छात्र नेता शान मोहम्मद को विश्वविद्यालय में ब्लैक लिस्ट करने पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी किसी छात्र को प्रवेश करने से रोक नहीं सकती, अगर ऐसा होता है तो हमारी पार्टी एक बड़ा आंदोलन करने को मजबूर होगी।

विश्वविद्यालय के बाद कचहरी स्थित अंबेडकर चौराहा पहुंचे, वहां उन्होंने अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण कर नमन किया। अब बात यह है कि क्या चंद्रशेखर रावण शहरों में अपनी आमद कराकर विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कोई खास रणनीति बना रहे हैं। या फिर प्रदेश की राजनीति में अपने वजूद को जगह-जगह घूमकर परखने की कोशिश कर रहे हैं…. ब्यूरो रिपोर्ट… ई-रेडियो इंडिया मेरठ…