कोरोना: विदेशी पर्यटक, विदेश से लौटे नागरिक बढा रहे चिंता

snow light people woman
Photo by Tanya Gorelova on Pexels.com

विदेश से लौटा एक और व्यक्ति मिला करोना संक्रमित
मथुरा में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 14 हुई

मथुरा। विदेशी पर्यटक और विदेश से लौटे नागरिक कान्हा की नगरी में कोरोना को लेकर चिंता बढा रहे हैं। मथुरा में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। पिछले गुरूवार को मथुरा कोरोना फ्री जोन हो गया था। मथुरा जनपद में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या शून्य हो गई थी। इससे पहले विदेशी पर्यटकों ने मथुरा में लम्बे समय बाद कोरोना का खाता खोला था और एक के बाद एक बढते हुए इसी महीने कोरोना संक्रमितों की संख्या 17 तक पहुंच गई थी। इसके बाद कोरोना के मरीज मिलना बंद हो गया था। शुक्रवार से एक बार फिर कोरोना संक्रमितों के मिलने से सिलसिला शुरू हुआ और मंगलवार की शाम तक यह संख्या 14 पहुंच गई।

Advertisement

कोविड प्रभारी डॉ. भूदेव सिंह ने बताया कि संक्रमितों के सैंपल जीनोम स्वीकेंस के लिए भेजे गए हैं। वहीं संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों के सैंपल लेने के साथ ही जनपद में हर दिन तीन हजार से अधिक लोगों के सैंपल लेकर आरटीपीसीआर जांच कराई जा रही है।स्वास्थ्य विभाग को मंगलवार की देर शाम मिली रिपोर्ट में कोरोना के सात सवंमित मिलने की पुष्टि हुई। इनमें यूगांडा से लौटे शहर के डेंपियर नगर निवासी 53 वर्षीय व्यक्ति भी शामिल हैं। तबियत खराब होने पर उन्होंने कोरोना की जांच कराई। शहर के चौबिया पाड़ा निवासी 32 वर्षीय महिला और 38 वर्षीय पुरुष ने सिंगापुर जाने से पूर्व कोरोना की जांच कराई, रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि एक केस वृंदावन के इस्कान टेंपल के समीप एमवीटी गेस्ट हाउस में निकला है। 40 वर्षीय महिला दुबई से आकर वृंदावन के एमवीटी गेस्टहाउस में ठहरी हुई थी। यहां सैंपल कराने के बाद महिला गुरुग्राम चली गई।

इसके सैंपल की रिपोर्ट मंगलवार को पॉजिटिव आई है। इनमें से चार लोग जनपद बाहर जा चुके हैं और सात कोरोना पॉजिटिव का इलाज चल रह है। स्वास्थ्य विभाग लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए है। विभाग की ओर से लगातार समीक्षा की जा रही है। कोरोना के मरीज बढने पर अगर उन्हें भर्ती कराना पडे तो कहां भर्ती कराया जाए इस बात पर भी ध्यान दिया जा रहा है। सीएमओ डॉ. एके वर्मा के मुताबिक वृंदावन स्वास्थ्य केंद्र एवं वृंदावन संयुक्त चिकित्सालय में जरूरत पडऩे पर कोरोना मरीज भर्ती किए जाएंगे। वृंदावन में चिकित्सकों की कमी पर सीएमओ ने चार चिकित्सक यहां भेजे हैं। कोरोना ड्यूटी के आदेश भी जारी किए जा रहे हैं।