अखण्ड रामायण पाठ में संत श्री महेश जी ने बताया मर्यादा पुरुषोत्तम का मर्म

266
अखण्ड रामायण पाठ में संत श्री महेश जी ने बताया मर्यादा पुरुषोत्तम का मर्म
अखण्ड रामायण पाठ में संत श्री महेश जी ने बताया मर्यादा पुरुषोत्तम का मर्म
  • ललित सैनी, मुरादाबाद

सी. एल. गुप्ता परिवार की ओर से संगीतमय रामायण का पाठ आयोजित किया गया। अयोध्या नगरी के महान संत श्रद्धेय श्री महेश जी के मुखारविंद से मानस के जीवन में रामचरित मानस की महत्ता पर प्रवचन दिया गया।

19 मार्च से लेकर 21 मार्च  तक के अखंड पाठ में कई उत्सवों को पूरी श्रद्धा और प्रेम के साथ मनाया गया। इस दौरान राम जन्म, राम विवाह, राम राज्याभिषेक आदि विभिन्न पहलुओं को श्रीमुख से सुनकर श्रोता भावविभोर हो उठे। मर्यादा पुरुषोत्तम के जीवन की झांकी और उनके आदर्शों का बखान किया गया।

संत श्री महेश जी महाराज

इस कथा के गुणगान के लिए अयोध्या और कानपुर से शास्त्रीय गायन पद्धति को प्रस्तुत करने वाली मंडली की विशेष आकर्षण का केंद्र रही। यजमान शिखा गुप्ता एवं राघव गुप्ता ने राम जी का भव्य व मनोहर दरबार सजाया। मनमाेहक कार्यक्रम की वजह से पूरे क्षेत्र में भक्तिमय माहौल का बन जाना सभी को प्रफुल्लित कर रहा था।

श्रीराम जी का सजा भव्य दरबार अनायास ही सबका मन माेह रहा था।