परिवार नियोजन के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए मंथन

नेशनल हेल्थ मिशन की ओर से परिवार नियोजन पर क्षेत्रीय कार्यशाला का आयोजन
मेरठ। बच्चा पार्क स्थित आईएमए हाल में नेशनल हेल्थ मिशन एनएचएम के तत्वावधान में परिवार नियोजन को लेकर मेरठ.सहारनपुर मंडल के स्वास्थ्य अधिकारियों की कार्यशाला का आयोजन किया गया।इसमें मेरठ. सहारनपुर मंडल में परिवार नियोजन के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए मंथन किया गया।
एनएचएम के सीनियर कंसलटेंट परिवार नियोजन अखिलेश श्रीवास्तव अपर स्वास्थ्य निदेशक डा. संगीतागुप्ता, संयुक्त स्वास्थ्य निदेशक अंजू जोधा,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अखिलेश मोहन,अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. पूजा शर्मा, आईपास के निदेशक देवेन्द्र त्रिपाठी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करकार्यक्रम का शुभारंभ किया।
नेशनल हेल्थ मिशन के स्टेट कंसलटेंट मनीष सोनी ने मेरठ.सहारनपुर मंडल को परिवार नियोजन कार्यक्रम पर और ज्यादा फोकस करने को कहा। उन्होंने कहा परिवार नियोजन के साधनों की उपलब्धता निचले स्तर तक होनी चाहिएए तभी इसके सार्थक परिणाम सामने आएंगे।
अपर स्वास्थ्य निदेशक डा. संगीता गुप्ता ने कहा .जब तक परिवार नियोजन के साधनों को धरातल तक नहीं उतारा जाता जब तक परिवार नियोजन का मिशन पूरा नहीं हो पाएगा। उन्होंने कहा ब्लॉक लेवल तक इसे पहुंचाने के प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा किसी भी परिवार के लिये परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने पर उसकी आर्थिक सामाजिक,शैक्षिक स्थिति पर प्रभाव पड़ता है। वर्तमान में शिक्षित महिलाओं में परिवारनियोजन के प्रति जागरूकता तेजी से बढ़ रहीहै।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अखिलेश मोहन ने कहा. कोरोना काल में परिवार नियोजन के मामले में कुछ जिले पिछड़ गये थे, लेकिन कोरोना का संक्रमण कम होने पर जिलों द्वारा परिवार नियोजन पर लगातार कार्य किया जा रहा है। अप्रैल माह से शुरू हो रहे नये वित्तीय वर्ष में मेरठ की स्थिति में और सुधार के प्रयास किए जाएंगे।आईपास के निदेशक देवेन्द्र त्रिपाठी ने कहा उनकी संस्था एमपीटी एक्ट के बारे में दंपति व महिलाओं को जागरूक करने का कार्य रहीहै, जिसका असर समाज मे ंदिखाई दे रहाहै। लोग अब एमपीटी एक्ट को समझने लगे है।उन्होंने एमपीटी एक्ट 2021 में हुए संशोधन के बारे में विस्तार से बताया । कार्यशाला में दोनो मंडलों के पदाधिकारियों ने अपने जिले की समस्याओं को भी रखा। जिसका समाधान करने का प्रयास किया गया। इस मौके पर डीपीएम मनीष बिसारिया, डीसीपीएम हरपालसिंह, परिवार नियोजन के विशेषज्ञ जितेन्द्र सिंह,डा. प्रशांत, डा विनीता द्विवेदी सोशल वर्कर मेंटल हेल्थ, डीएफपीएस अभिषेक आदि मौजूद रहे।

Advertisement