प्रिंट मीडिया के साफ्टवेयर्स सीखें

261
Print Media Courses

प्रिंट मीडिया में वही पत्रकार कामयाब हो पाता है जिसे तकनीकि की जानकारी हो…… भारत में प्रिंट मीडिया की हालात अब बेहद खराब हो चली है। ऐसे में अखबार में काम करने वाले पत्रकारों पर मानसिक दबाव और तनाव की स्थिति बनी रहती है….

यह तनाव उस वक्त और भी बढ़ जाता है जब संस्थान यह फरमान जारी करते हैं कि अपना पेज खुद बनाओ… अपनी खबरें बेवसाइट पर खुद अपलोड करें… इतना सुनते ही कुछ तो आपा खो बैठते हैं और कुछ नौकरी से हाथ धो बैठते हैं…..

इसके अलावा सबसे बड़ी परेशानी उनके लिये होती है जिनका साप्ताहिक, मासिक या अन्य पीरियाडिक अखबार होता है…. आर्थिक असुरक्षा के कारण उनके यहां कोई पेजीनेटर काम नहीं कर पाता। इससे भी बड़ी समस्या ये है कि इन छोटे और मझौले मालिकों व संपादकों को खुद अखबार डिजायन करने नहीं आता… ऐसे में उन्हें अखबार के डिजाइन और खबरों की सामाग्री से समझौता कर कम योग्यता वाले डिजायनरों से काम करवाना पड़ता है….

ये सब है इस कोर्स में शामिल

लेकिन… अब ऐसा नहीं होने वाला है… क्योंकि हमने डिजाइन किया है आपके लिये खास कोर्स जिसमें हम आपको सिखायेंगे… QuarkXPress में अखबार का पेज बनाना, पेज को ठीक से सजाना, फोटो को पेज में सेट करना, समाचार को ऑन पेज एडिट करना, सबहेड- क्रॉसर- एंकर- पाइंटर और समाचार के प्रत्येक समीकरणों को ठीक से समझना….

इसके अलावा आपको एडवांस तकनीकि के बारे में भी जानकारी दी जायेगी… जैसे कि Photoshop से इमेज को प्रिंट फार्मेट में चेंज करना व QuarkXPress में इम्पोर्ट करना, पीडीएफ बनाना और Automatic Pagination के टिप्स भी आपको दिये जायेंगे। दोस्तों इसी कोर्स में आपको बतायेंगे प्रभावी हेडिंग, सब हेडिंग और क्रासर लिखने के टिप्स ताकि आप बन सके सुपरहिट।

साथियों इतनी सारी जानकारी आपको दी जायेगी मात्र एक महीने के प्रशिक्षण में… इसके लिये आपको पे करनी होगी नॉमिनल फीस जिसकी कीमत है मात्र 4999/- रूपये।

तो अगर आप प्रिंट मीडिया के सबसे बड़े चैलेंज से पंगा लेने को तैयार हैं… तो आज ही रजिस्टर करें… और बनें प्रिंट मीडिया के बादशाह… मात्र एक माह में… स्क्रीन पर दिखाये गये नम्बर पर सीधे कॉल कर सकते हैं या फिर हमारी ई मेल eradioindia@gmail.com पर सम्पर्क कर सकते हैं।

Previous articleSocial Media Promotion
Next articleविज्ञापन देकर सहयोग करें
पत्रकारिता में बेदाग 11 वर्षों का सफर करने वाले युवा पत्रकार त्रिनाथ मिश्र ई-रेडियो इंडिया के एडिटर हैं। उन्होंने समाज व शासन-प्रशासन के बीच मधुर संबंध स्थापित करने व मजबूती के साथ आवाज बुलंद करने के लिये ई-रेडियो इंडिया का गठन किया है।

1 COMMENT

Comments are closed.