Priyanka Gandhi in Sardhana: कैली गांव में गरजीं प्रियंका गांधी

कृषि कानूनों को बताया किसानों के लिये खतरा

155

Priyanka Gandhi in Sardhana: मेरठ में सरधना के कैली गांव में किसान महापंचायत बुलाई गई। महापंचायत में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ट्रैक्टर से पहुंचीं। महापंचायत को संबोधित करते हुए प्रियंका ने केंद्र सरकार पर हमला बोला।

प्रियंका गांधी ने सरधना में किसान पंचायत को संबोधित करते हुए कृषि कानूनों को तुरंत वापस करने का समर्थन किया और उन्होंने कहा है कि मेरठ क्रांतिधारा है और यहीं से क्रांति की उत्पत्ति हुई थी। इस कानून को केंद्र सरकार को तुरंत वापस कर लेना चाहिए भविष्य में यह किसानों के लिए जानलेवा साबित होगा।

प्रियंका (Priyanka Gandhi in Sardhana) ने कहा है कि इन कानूनों से उद्योग पतियों का किसानों पर नियंत्रण हो जाएगा जिसके बाद न्यूनतम समर्थन मूल्य तो खत्म होगा ही साथ ही साथ मंडियां खत्म हो जाएंगी। सारा अधिकार उद्योगपतियों के पास चले जाने से यदि वह किसानों की फसलों को लेने से इंकार कर दे तो किसान असहाय होकर बैठ जाएगा क्योंकि अपील करने का अधिकार सिर्फ एसडीएम के पास है ऐसे में सरकारी  कर्मचारी के रूप में काम करने वाले एसडीएम और डीएम क्या किसानों के लिए निष्पक्ष रूप से कार्रवाई करेंगे।

Priyanka Gandhi in Sardhana: जबतक है दम तब तक लडूंगीं 

प्रियंका गांधी ने कहा है कि किसानों के लिए वह हमेशा लड़ती रहेगी चाहे 100 दिन हो या 100 साल लग जाएं। जहां किसान खड़ा होगा, गरीब, मजदूर खड़ा होगा वहां पर कांग्रेस की तरफ से मैं आपके समक्ष हमेशा खड़ी रहूंगी।

कहा कि राहुल ने संसद में किसानों की मौत का मुद्दा उठाया लेकिन किसानों की मौत पर सभी मौन रहे। संसद में कोई सत्ता पक्ष का खड़ा नहीं हुआ। किसानों का अपमान किया गया। आंदोलनजीवी और परजीवी कहकर अपमान हुआ। उन्‍होंने कहा कि दिल्ली बॉर्डर की तरह गांव गांव आंदोलन कीजिए। जब जब आप संकट में होंगे कांग्रेस खड़ी होगी। दुख हो या सुख तब तब पहुंचेंगे। हम कर्जदार हैं आपके। आपकी लड़ाई मेरी लड़ाई है। जब तक मुझमें दम है तब तक लड़ूंगी।