corona jpg webp

उत्तराखंड में कोरोना के 255 नए मामले, एक की मौत

0 minutes, 1 second Read

-विशेष टीकाकरण अभियान में एक लाख लोगों को लगाई जाएगी प्रीकॉशन डोज

देहरादून, उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 255 नए मामले आये हैं जबकि आज एक मरीज की मौत हुई है। प्रदेश में कुल 234 लोग स्वस्थ होकर अपने घर गए। आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में आगामी 14 व 15 अगस्त को प्रदेशभर में दो दिवसीय विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान एक लाख लोगों को बूस्टर डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है। राज्य में अबतक 16 फीसदी लोगों को प्रीकॉशन डोज लगाई गई है।

शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक प्रदेश में कुल 2486 जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। प्रदेश में कुल 255 कोरोना के मामले मिले हैं। इनमें से देहरादून में 107, हरिद्वार 11, नैनीताल 50, पिथौरागढ 04, रुद्रप्रयाग 27, पौड़ी गढ़वाल और उधमसिंह नगर 15-15, उत्तरकाशी और चमोली में पांच-पांच, टिहरी, चंपावत में दो-दो, अल्मोड़ा और बागेश्वर में छह-छह मरीज मिले हैं।

प्रदेश में कुल 234 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर गए। राज्य में 1227 सक्रिय मरीजों का उपचार चल रहा है। कोरोना रिकवरी 94.92 फीसद है।
शनिवार को प्रदेश के 898 केन्द्रों पर 25454 लोगों को कोरोनारोधी टीके लगाए गए। प्रदेश भर में 23,707 पात्र लोगों को प्रीकॉशन डोज दी गई।

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बताया कि अब तक कोरोना वैक्सीन की प्रथम डोज शतप्रतिशत लोगों को लगाई जा चुकी है जबकि दूसरी डोज 95 फीसदी लगाई गई है। इसके अलावा एक माह के भीतर 16 फीसदी लोगों को प्रीकॉशन डोज भी लगाई जा चुकी है जो कि राष्ट्रीय औसत से कहीं अधिक है। दो दिवसीय विशेष टीकाकरण में एक लाख लोगों को बूस्टर डोज लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उन्होंने बताया कि इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये सभी जनपदों के मुख्य चिकित्साधिकारियों को जरूरी निर्देश दे दिये गये हैं। दो दिवसीय वैक्सीनेशन अभियान के लिये राज्यभर में एक हजार वैक्सीनेशन कैंप लगाये जायेंगे, जहां पर लोग प्रीकॉशन डोज लगा सकेंगे। उन्होंने सभी से अपील करते हुये कहा कि आगामी 14 एवं 15 अगस्त को अपने नजदीकी वैक्सीनेशन केन्द्र पर जा कर अपना टीकाकरण अवश्य करायें।

author

Neha Singh

नेहा सिंह इंटर्न डिजिटल पत्रकार हैं। अनुभव की सीढ़ियां चढ़ने का प्रयत्न जारी है। ई-रेडियो इंडिया में वेबसाइट अपडेशन का काम कर रही हैं। कभी-कभी एंकरिंग में भी हाथ आजमाने से नहीं चूकतीं।

Similar Posts

error: Copyright: mail me to info@eradioindia.com