Adv Ompal Sucied: अधिवक्ता व सरकार का गतिरोध कब तक चलेगा?

57

Adv Ompal Sucied: में मेरठ के अधिवक्ता व सरकार के नुमाइंदों के बीच गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। वकीलों ने काम काज ठप किया है तो पुलिस ने जांच के नाम पर मामले में गिरफ्तारी नहीं की है।

मुझमें कोई मुझ जैसा हो ऐसा भी हो सकता है,

या फिर कोई और छुपा हो ऐसा भी हो सकता है।

अम्बर भी नीला नीला है दरिया भी नीला नीला,

उन दोनों ने जहर पिया हो ऐसा भी हो सकता है।

अधिवक्ता ओमपाल सिंह तोमर प्रकरण में किसी तरह की गिरफ्तारी ना होने से अधिवक्ताओं का गुस्सा सातवें आसमान पर है। कचहरी कंपाउंड स्थित विकास भवन में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा योजनाओं का जायजा लेने पहुंचे थे इस दौरान पिछले 1 हफ्ते से अनशन पर बैठे हुए अधिवक्ताओं को भनक लग गई।

अधिवक्ताओं से मिलने के लिए पहुंचे, प्रशासन व पुलिस कर्मियों ने अनुमति मिलने के बाद कुछ अधिवक्ताओं को अंदर मिलने के लिए जाने दिया।  अब तक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से जिस प्रकार का आश्वासन मिलता रहा ठीक वैसा ही आश्वासन एक बार फिर मिला, और दूसरों को न्याय मिलने का ढाढस बधाने वाले अधिवक्ताओं को मंत्री जी ने भी न्याय मिलने का ढाढस बधाते हुए कहा कि कार्यवाही की जाएगी।

वहीं इसी प्रकरण में अधिवक्ता रामकुमार शर्मा ने मौके पर पहुंचे भाजपा जिलाध्यक्ष अनुज राठी को वहां से खदेड़ने का दावा करते हुये कहा कि पुलिसकर्मी भी इस मौके के मूक गवाह हैं।

इस पूरे प्रकरण में सबसे बड़ा सवाल यही है कि जब केस का नेचर गंभीर है, सुसाइड नोट में स्पष्ट तरीके से नाम शामिल है बावजूद इसके ठोस कार्यवाही ना हो पाना यह बताता है कि आम आदमियों को अपने प्रकरण में सुनवाई करवाने के लिए पुलिसकर्मियों से कितने अनुरोध करने होते होंगे।

उत्तर प्रदेश में हालांकि समस्याओं की बाढ़ के आगे पुलिसकर्मियों की संख्या बहुत कम है, विवेचना जांच पड़ताल करने में 6 महीने से 1 साल का समय होता है लेकिन  प्रायोगिक तौर पर यह समय 5 वर्ष से लेकर 10 वर्ष तक का समय लगता है या ऐसा भी हो सकता है कि आपके पास कोई सोर्स नहीं है तो फाइल खुले ही ना।

लेकिन मेरठ में सबसे अजीब बात यह देखने को मिल रही है कि जो अधिवक्ता न्यायालय में दूसरों को न्याय दिलाने के लिए एड़ी चोटी का बल लगा देते हैं, अपने दिल को राहत दिलाने के लिए हर तरह के रास्ते को अख्तियार कर लेते हैं आज वही अधिवक्ता सरकारी सिस्टम और उनके उपयोगकर्ताओं के आगे बेबस, निहाल और असहाय खड़े हैं।

पूरे देश में करें विज्ञापन सिर्फ 5 हजार में एक माह के लिये-

अगर आपके व्यवसाय, कम्पनी या #प्रोडक्ट की ब्राडिंग व #प्रमोशन अनुभवी टीम की देखरेख में #वीडियो, आर्टिकल व शानदार ग्राफिक्स द्वारा किया जाये तो आपको अपने लिये ग्राहक मिलेगें साथ ही आपके ब्रांड की लोगों के बीच में चर्चा होनी शुरू हो जायेगी।
साथियों, वीडियो और #आर्टिकल के माध्यम से अपने व्यापार को Eradio India के विज्ञापन पैकेज के साथ बढ़ायें। हम आपके लिये 24X7 काम करने को तैयार हैं। सोशल मीडिया को हैंडल करना हो या फिर आपके प्रोडक्ट को कस्टमर तक पहुंचाना, यह सब काम हमारी #एक्सपर्ट_टीम आपके लिये करेगी।

इस पैकेज में आपको इन सुविधाओं का लाभ मिलेगा-

  • आपकी ब्रांड के प्रचार के लिए 2 वीडियो डॉक्यूमेंट्री।
  • 2 सोशल मीडिया एकाउंट बनाना व मेंटेन करना।
  • 8 ग्राफिक्स डिज़ाइन की शुभकामना व अन्य संदेश का विज्ञापन।
  • फेसबुक विज्ञापन और Google विज्ञापन, प्रबंधन।
  • नियमित प्रोफ़ाइल को मेंटेन करना।
  • नि:शुल्क ब्रांड लोगो डिजाइन (यदि आवश्यक होगा तो)।
  • परफेक्ट हैशटैग के साथ कंटेंट लिखना और प्रभावशाली पोस्टिंग।
  • कमेंट‍्स व लाइक्स काे मैंनेज करना।
  • www.eradioindia.com पर पब्लिश की जाने वाली न्यूज में आपका विज्ञापन नि:शुल्क दिया जायेगा।
  • अभी ह्वाट‍्सअप करें: 09458002343
  • ईमेल करें: eradioindia@gmail.com

1 COMMENT

Comments are closed.