Amitabh Bachchan Ka Humshakal: कहीं आप कन्फ्यूज न हो जायें

144
Amitabh Bachchan Ka Humshakal: कहीं आप कन्फ्यूज न हो जायें
Amitabh Bachchan Ka Humshakal: कहीं आप कन्फ्यूज न हो जायें
  • संवाददाता || ई-रेडियो इंडिया

Amitabh Bachchan Ka Humshakal: अमिताभ बच्चन को कौन नहीं जानता, शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो अमिताभ बच्चन को न जानता हो। अपनी काबिलियत और विनम्रता के चलते अपनी अलग पहचान बनाने वाले बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन किसी पहचान के मोहताज नहीं है।

बॉलीवुड के स्टार्स की कॉपी करने की जो कला है वह भी अपने चरम सीमा पर है। दर्जनों, सैकड़ों ही नहीं बल्कि हजारों की तादात में ऐसे लोग जो बॉलीवुड स्टार्स की कॉपी करते हैं और खुद को उनका फैन मानते हुए प्रसिद्धि पाते हैं। 

Amitabh Bachchan Ka Humshakal: कहीं आप कन्फ्यूज न हो जायें

Amitabh Bachchan Ka Humshakal अमिताभ बच्चन की मिमिक्री करना उनके जैसा गेट अप हासिल करने की कोशिश में आपने तमाम लोगों को देखा होगा लेकिन यहां आज मैं जिस शख्स के बारे में बात करने वाला हूं उसको देखकर तो अच्छे-अच्छे आश्चर्य में पड़ जाते हैं कहीं असली अमिताभ बच्चन तो नहीं आ गए। बात हो रही है पुणे के रहने वाले प्रोफेसर शशिकांत पेडवाल की। 

Amitabh Bachchan Ka Humshakal शशिकांत पेडवाल हैं प्रोफेसर

शशिकांत पेडवाल महाराष्ट्र पुणे में रहते हैं औऱ वो खुद अमिताभ बच्चन के बहुत बड़े फैन हैं। शशिकांत पुणे लोनावला में स्थितइंडियन ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (ITI) में डीजल मैकेनिक्स के प्रोफेसर हैं। वो यहां छात्रों के बीच तो लोकप्रिय हैं ही, साथ ही उनके टिक टॉक वीडियोज देश के साथ साथ विदेशों में भी उनकी अच्छी खासी पहचान बना चुके हैं। 

शशीकांत पेडवाल कई मायनों में अमिताभ बच्चन के हमशक्ल लगते हैं। सबसे बड़ी बात तो यही है कि उनके चेहरे की बनावट अमिताभ बच्चन से हूबहू मिलती है, अमिताभ बच्चन का अंदाज भी उनके लाइफस्टाइल में ठीक वैसा ही है जो रियल में अमिताभ का है।

शशिकांत प्रोफेसर होने के साथ-साथ सामाजिक कार्यों में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं। अमिताभ बच्चन की मिमिक्री करना उनका पसंदीदा शौक है। बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि पहले आर्केस्ट्रा में उन्हें खासकर इसलिए बुलाया जाता था ताकि वह अमिताभ बच्चन के खूब अंदाज में उनकी आवाज को निकालकर लोगों को रोमांचित और मनोरंजन कर दें।

Amitabh Bachchan Ka Humshakal: कहीं आप कन्फ्यूज न हो जायें

शशिकांत (Amitabh Bachchan Ka Humshakal) टिक टॉक पर भी वीडियो  बनाया करते थे  और इन वीडियो की बदौलत देश के साथ साथ विदेशों में भी उनके फैंस बन गए। वो न्यूयॉर्क,  मॉरीशस में भी कई प्रोग्राम करके आ चुके हैं।

शशीकांत पेडवाल (Amitabh Bachchan Ka Humshakal) बताते हैं कि उनके जीवन का सबसे अहम वक्त हो रहा जब उन्हें कैंसर पीड़ित बच्चों से मिलवाने के लिए यह कहकर बुलाया गया कि आपको रियल अमिताभ की भूमिका निभानी है। कैंसर पीड़ित बच्चे उन्हें अमिताभ समझकर (Amitabh Bachchan Ka Humshakal) ही मिलते हैं और खुश होते हैं, हालांकि शशिकांत इस काम के बदले किसी तरह का कोई चार्ज नहीं करते हैं।