Benefits of black wheat | काला गेहूं के फायदे

Benefits of black wheat | काला गेहूं के फायदे
Benefits of black wheat | काला गेहूं के फायदे
  • सागर चौधरी, असिस्टेंट प्रोफेसर चमन लाल महाविद्यालय लंढौरा हरिद्वार

Benefits of black wheat: पिछले कुछ वर्षों से काले गेहूं को लेकर लगातार खबरें आई जा रही है। जिसमें ये कहा जा रहा है,की भारत में पहली बार काले गेहूं खेती हो रही है और ये सामान्य गेहूं के मुकाबले न सिर्फ कई गुना महंगा बिकता है। बल्कि इसमें कैंसर और डायबिटीज समेत कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है।लेकिन यह पूरा सच नहीं है। आज आप को बताते हैं, ये गेहूं कहां पैदा होता है।

इसका रंग काला क्यों होता है क्या काले रंग के अलावा भी किसी रंग का गेहूं होता है और इसके चिकित्सकीय गुण क्या है। सात वर्षों के रिसर्च के बाद गेहू की इस – किस्म को पंजाब के मोहाली स्थित नेशनल एग्री फूड बायोटेक्नॉलजी इंस्टीटयूट या नाबी ने विकसित किया है ।नाबी के पास इसका पेटेंट भी। इस गेहू की खास बात यह है कि इसका रंग काला है । मोहाली स्थित नाबी ने पाया कि शुरु में इसकी बालियां भी आम गेहू जैसी हरी होती है,पकने पर दानों का रंग काला हो जाता है । जामुनी रंग के गेहूं की किस्म भी विकसित की है।

Advertisement

Benefits of black wheat: यहां जानें किस अनाज में क्या तत्व होता है

इस गेहूं के अनोखे रंग का कारण यह है कि फलों, सब्जियों और अनाजों के रंग उनमें मौजूद प्लांट पिगमेंट या रंजक कणों की मात्रा पर निर्भर होते है ।काले गेहूं मैं एंथोसाएनिन नाम के पिगमेंट होते है।एंथोंसाएनिन की अधिकता से फलों, सब्जियौं, अनाजों का रंग नीला, बैंगनी या काला हो जाता है। एंथोसाएनिन नैचुरल एंटीआक्सीडेंट भी है इसी वजह से यह सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। आम गेहूं में एंथोसाएनिन महज 5 पीपीए्म होता है लेकिन काले गेहू मे यह 100 से 200 पीपीएम के आसपास होता है। एंथोसाएनिन के अलावा काले गेहूं में जिंक और आयरन की मात्रा में भी अंतर होता है।

काले गेहुं में आम गेहूं की तुलना में 60 फीसदी आयरन ज्यादा होता है। हालांकि प्रोटीन, स्टार्च और दूसरे पोषक तत्व समान मात्रा में होते हैं । अपनी एंटीआकसीडेंट खूबयों की वजह मैं इसानों के लिए भी यह फायदेमंद साबित होगा। नाबी इसके बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए कंपत्तियों से करार कर रहा है। काला गेहू तनाव, मधुमेह, कैंसर, और हृदय रोग जैसी बीमारियों के इलाज के लिए कारगर हैं। देखने में आया है कि कुछ ई-कॉमर्स वैवसाइट काले गेहू का आटा बैंच रही हैं। इसकी कीमत साइट पर 2 – हजार रुपये प्रति किलो से 4- हजार रूपये प्रति किलो तक बताई गई है। साथ ही इनमे बीमारिया दूर करने वाले वे सभी दावे भी किए गर है जो बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है।

2 टिप्पणी

टिप्पणियाँ बंद हैं।