चौबेपुर का पूर्व थानाध्यक्ष व दरोगा मुखबिरी के आरोप में गिरफ्तार, अब होगी तुड़ाई-उगलेगा कई राज

चौबेपुर का पूर्व थानाध्यक्ष व दरोगा मुखबिरी के आरोप में गिरफ्तार, अब होगी तुड़ाई-उगलेगा कई राज
  • संवाददाता, ई-रेडियो इंडिया

लखनऊ। कानपुर के बिकरू गांव में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में मुखबिरी करने के आरोपी पूर्व थानाध्यक्ष चौबेपुर विनय तिवारी व दारोगा केके शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन पर यह आरोप लगा था रेट डालने से पहले उन्होंने विकास दुबे को इसकी जानकारी दी थी।

आपको बता दें कि इस हत्याकांड में विकास हुआ अभी तक फरार है और आज उसकी लोकेशन फरीदाबाद के एक होटल में ट्रेस की गई थी जिसके बाद से सख्ती कर दी गई है। पुलिस बिल्कुल एलर्ट हो गई है, उसके दो रिश्तेदार होटल से गिरफ्तार किए गए हैं जिनके नाम पर होटल बुक थे।

फतेहपुर पुलिस और एसटीएफ ने विकास दुबे के राइट हैंण्ड अमर दुबे को एनकाउंटर में मार गिराया है। पुलिस विभाग में रोष देखा जा रहा है और उसकी तलाशी बहुत तेज कर दी गई है उम्मीद है किएक या दो दिनों के अंदर ही विकास दुबे को गिरफ्तार कर लिया जाएगा या फिर मौत के घाट उतार दिया जायेगा।

पूर्व ऐसो चौबेपुर थाना विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और अब बताया जा रहा है उनके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। ऐसे में कल पूछताछ में विनय तिवारी ने कई सारे मामलों का खुलासा किया था और यह बताया जा रहा है कि जो एसएसपी रहते हुए अनंत देव ने जिस विकास दुबे पर कार्यवाही नहीं की थी वह एसटीएफ के डीआईजी बना दिए गए थे।

Advertisement

जब यह जघन्य हत्याकांड हुआ तो एसटीएफ के डीआईजी यानी पूर्व एसएसपी अनंत देव को यह जांच सौंप दी गई, जिन पर यह आरोप था कि उन्होंने विकास दुबे के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। ऐसे में शासन ने एक्शन लेते हुए एसटीएफ के डीआईजी को वहां से हटा दिया, उनका तबादला कर दिया। अब सबसे बड़ा सवाल यही है कि आने वाले समय में क्या कार्यवाही होती है?

किस तरीके से इस केस को एक्जीक्यूट किया जाएगा, यह भविष्य के गर्भ में है लेकिन बहरहाल अभी बात इतनी है कि पुलिस बिल्कुल मुस्तैद है सख्त है और ऐसे में वह किसी भी तरीके से विकास दुबे को बख्शने के मूड में नहीं है। विकास दुबे से तमाम सफेदपोश के रिलेशन भी सामने आ रहे हैं, कई सारी चिट्टियां भी सामने आ रही है अभी वह जांच का विषय है लेकिन सबसे पहला काम है इस अपराधी को पकड़ना और इसको मौत के घाट उतार देना।
Send Your News to +919458002343 email to [email protected] for news publication to eradioindia.com