जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने विदुर कुटी का स्थलीय निरीक्षण किया

  • बिजनौर।

जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए कि विदुर कुटी में प्रतिदिन साफ-सफाई के कार्य निरन्तर जारी रहने चाहिये उन्होंने विदुर कुटी स्थित भवनांे के निरीक्षण के दौरान उनका जीर्णोंद्वार कराने तथा रंगाई पुताई के साथ स्वच्छ रखने के निर्देश

दिए। उन्होंने वहां स्थित लाइब्रेरी का गहनता से निरीक्षण किया वहां रखी गयी प्रत्येक पुस्तक को देखा और पुस्तकालय के खिडकी विन्डो, दरवाजे, लाइटों की गहनता से जानकारी ली और उन्में जो भी कमी है उसकेा तत्काल सुधार करने के निर्देश उपस्थित अधिकारियों को दिये।

Advertisement

उन्होंने आयुर्वेद अस्पताल का निरीक्षण करते हुए कहा कि विदुर कुटी स्थित आयुर्वेद चिकित्सालय ऐसे स्थान पर स्थापित है जहां प्राकृतिक और स्वच्छ वातावरण की उपलब्धता है। उन्होंने अस्पताल में आने वाले गंभीर मरीजों को भर्ती करने तथा आयुर्वेद के अलावा प्राकृतिक चिकित्सा पद्वति से भी उपचार करने के निर्देश दिए।

इसी के साथ उन्होंने वहां नियमित रूप से योगाभ्यास करने के लिए स्थान का चिन्हिकरण करने और आमजन को वहां आकर योगा करने के लिए पे्ररित करने के भी निर्देश दिए।उन्होेंने वहां स्थित बैठक हाल की व्यवस्था को भी गहनता से देखा।

जिलाधिकारी ने कहा कि विदुर कुटी को लेकर जो कार्ययोजना बनाई है उसके अंतर्गत जो कार्य अपूर्ण हैं, उन्हें अधिकारी तत्काल पुरा करना सुनिश्चिित करें।
जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने गुरूवार को विदुर कुटी का स्थलीय निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे।

उन्हांेेने प्राथमिक विधालय दारानगर के निरीक्षण में वहां पढने वाले बच्चों से मध्यायन भोजन की गुणवत्ता के बारे में जानकारी प्राप्त की और बच्चों के लिये बनने वाले भोजन की गुणवत्ता को भी परखा साथ ही उन्होंने संबंधित अधिकारी को भोजन की गुणवत्ता को बनाये रखने के निर्देश दिये।

उन्होंने विधालय में बच्चों को मिलने वाली साम्रगी बैग, डेªस किताबों और जूतों के बारे मे शिक्षकों की उपस्थिति की भी विस्तार से जानकारी ली और आंगनवाडी केन्द में आंगनबाडी कर्मी से बच्चों के स्वास्थ्य के संबंध व बच्चों के नामांकन के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की।

उनके द्वारा ग्राम पंचायत सचिवालय भवन का भी निरीक्षण किया और उसकी साफ-सफाई एंव सज्जा को गहनता से देखा साथ ही उन्होंने उसमें आवश्यक सुधार करने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये।जिलाधिकारी ने स्पष्ट करते हुए कहा कि स्वच्छता, केन्द्र एंव प्रदेश सरकार की प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों में शामिल है

विशेष रूप से स्वच्छता के प्रति जागरूकता उत्पन्न की जाए ताकि लोग पे्ररित हो कर स्वच्छता को अंगीकार करंे। उन्होंने निर्माण कार्यों से संबंधित सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि विशेषकर गुणवत्ता पर ध्यान दें साथ ही उन्होंने उपस्थित सभी अधिकारियों को अपने समस्त कार्यों के प्रति और अधिक संवेदनशील रहने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कामता प्रसाद सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन भगवान शरण़, जिला पंचायत राज अधिकारी सतीश कुमार, ज्वांइट मजिस्ट्रेट/उप जिलाधिकारी सदर विक्रमादित्य सिंह मलिक सहित अन्य प्रशासनिक तथा जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।