ड्रिप स्प्रिकलर सिंचाई ने बदला किसान का जीवन, जताया शासन का आभार

173
ड्रिप स्प्रिकलर सिंचाई ने बदला किसान का जीवन, जताया शासन का आभार

ड्रिप स्प्रिकलर सिंचाई से हुयी बिजली, पानी, मजदूरी, समय एवं रक्षा रसायनों व खरपतवार की बचत, उत्पादन में हुई उत्तरोत्तर वृद्धि-लाभार्थी रतनपाल सिंह 

मेरठ। रतनपाल सिंह ग्राम भटीपुरा विकास खण्ड माछरा जनपद मेरठ ने समाचार पत्र के माध्यम से पढा कि गन्ना फसल में ड्रिप सिंचाई पद्धति लगाने पर राज्य सरकार अनुदान उपलब्ध करा रही है, इस सम्बन्ध में उन्होने कार्यालय जिला उद्यान अधिकारी मेरठ से सम्पर्क किया वहाँ से मुझे कुछ कम्पनियों के नाम बताये गये तथा एक आवेदन पत्र उपलब्ध कराया गया। ड्रिप/स्प्रिंकलर स्थापित करने वाली कम्पनी से मैंने स्वयं उनके मोबाईल नं0 पर बात की उन कम्पनियों में से नेटाफेम इरीगेशन के प्रतिनिधि गांव में आये।

रतनपाल सिंह ग्राम भटीपुरा विकास खण्ड माछरा जनपद मेरठ ने बताया कि गावं के आस-पास के कुछ किसानों ने इस प्रकार के कार्यक्रमों को देखने की इच्छा व्यक्त की । मैसर्स नेेटाफेम इरीगेशन के प्रतिनिधि द्वारा मेरे प्रक्षेत्र पर स्थापित सिस्टम द्वार प्रदर्शन कराया। मेरे द्वारा 2.0 हैक्टेयर क्षेत्रफल में गन्ना की फसल में ड्रिप लगाई गयी। ड्रिप से पूर्व 1000 कुन्तल प्रति है0 उत्पादन प्राप्त हो रहा था, ड्रिप स्थापना के पश्चात 2000 कुन्तल प्रति है0 उत्पादन प्राप्त हुआ। जिसमें मुझे बिजली, पानी, मजदूरी, समय एवं रक्षा रसायनों व खरपतवार की भी बचत हुई।

रतनपाल सिंह ग्राम भटीपुरा विकास खण्ड माछरा जनपद मेरठ ने बताया कि परम्परागत विधि एवं प्रचलित सिंचाई पद्धति के कारण अन्य वर्षाें के मुकाबले इस वर्ष उत्पादन में काफी वृद्धि हो गयी है। उन्होने कल्याणकारी व किसान की हित की योजनाएं चलाने के लिए मा0 प्रधानमंत्री जी व मा0 मुख्यमंत्री जी का आभार व्यक्त किया तथा योजनान्तर्गत लाभ पहंुचाने में सहायक सिद्ध हुये जिला उद्यान अधिकारी एवं प्रभारी योजना को धन्यवाद दिया। उनके द्वारा समय-समय पर मेरा मार्ग दर्शन किया गया।