कासगंज कांड: तिरंगे में लिपटा आया शहीद का पार्थिव शरीर, एक बदमाश का एनकाउंटर

35

कासगंज जिले में शराब माफिया के हमले में शहीद हुए सिपाही देवेंद्र सिंह का पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटा बुधवार दोपहर ढाई बजे उनके पैतृक गांव नगला बिंदु थाना डौकी, आगरा में पहुंचते ही कोहराम मच गया। मां और पत्नी बेसुध हो गईं। बहन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। मासूम बेटी बस पापा-पापा बोल रही थी। ये दृश्य देखकर हर किसी की आंख नम हो गईं। परिवार को शहीद के अंतिम दर्शन कराने के बाद विदाई दी गई। इस दौरान एडीजी अजय आनंद, डीएम पीएन सिंह, एसएसपी बबलू कुमार ने अर्थी को कंधा दिया।

वहीं इस घटना में शामिल मुख्य आरोपी के भाई काे पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया है। हालांकि, मुख्य आरोपी मोती धीमर घटना को अंजाम देकर अभी भी फरार है। जानकारी है कि पुलिस और बदमाशों के बीच सिढपुरा थाना क्षेत्र के नगला धीमर के पास काली नदी के किनारे मुठभेड़ हुई, जहां शराब तस्करों पुलिस के बीच गोलियां चली हैं।

Click here to watch complete news bulletin-