खनिज की कमी पशुओं के बांझपन का मुख्य कारण: डॉ भुवन प्रकाश

खनिज की कमी पशुओं के बांझपन का मुख्य कारण: डॉ भुवन प्रकाश
खनिज की कमी पशुओं के बांझपन का मुख्य कारण: डॉ भुवन प्रकाश

सुलतानपुर। पशुपालक और मत्स्यपालक भी अन्य किसानो की तरह अपना किसान क्रेडिट कार्ड बनवा सकते है इसके लिए जमीन की बाध्यता नही है। उपरोक्त बाते नाबार्ड़ के सहयोग से ओंकार सेवा संस्थान द्वारा कुडवार विकास खण्ड के पूरे पवार मे कृषक क्लब के किसानो के मीट विद एक्सपर्ट कार्यक्रम मे कही। अपने सम्बोधन मे डॉ ने पशुपालन विभाग की गोकुल मिशन, पशुधन बीमा योजना सहित कई सारी योजनाओ के बारे मे किसानो को जानकारी प्रदान की।

बडौदा यूपी बैंक के शाखा प्रबंधक आशीष दीक्षित ने किसान क्रेडिट कार्ड, जीवन ज्योतो बीमा योजना अटल पेंशन योजना सहित बैंक की विभिन्न योजनाओ के बारे मे विस्तार से जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम मे कृषि विज्ञान केन्द्र बरासिन कुडवार के वैज्ञानिक डॉ विनोद सिंह ने अपने सम्बोधन मे कहा कि जो किसान भाई जायद मे सब्जी की खेती करना चाहते है वे लोग जनवरी के आखिरी सप्ताह से लेकर फरवरी के प्रथम सप्ताह मे तक नर्सरी जरूर डाले।

Advertisement

प्रजाति के सम्बंध मे किसान भाई लौकी मे पूसा समर प्रोलिफिक लॉन्ग, पूसा मंजरी, पूसा नवीन, करेला मे फैजाबादी बारामासी, अर्काहरिद, एनडीवीटी 1 तथा तरोई मे पूसा चिकनी, कल्याणपुर चिकनी, सर्पुतीया प्रमुख प्रजातियाँ है। किसान भाई कृषि विज्ञान केन्द्र से या कृषि विश्वविद्यालय या किसी विश्वश्नीय दुकान से ही बीज खरीदे। इसी क्रम मे आलू की फसल को पाला से बचाने के लिए डायथेन एम 45 का दो ग्राम प्रति लीटर पानी मे घोल मिलकर छिड़काव करे।

क्योकि बदली और बारिश के बाद कुहरा पडने की सम्भावना प्रबल हो जाती है। कार्यक्रम संयोजक सूर्य कुमार त्रिपाठी ने कहा कि कृषक क्लब के किसानो को खेती से जुड़ी हर तकनीकी जानकारी उनके घर पर ही उपलब्ध कराई जा रही है। जिसका काफी सकारात्मक परिणाम मिल रहा है। कार्यक्रम मे प्रमुख रूप से महेंद्र दुबे, गोविंद द्विवेदी, शेर बहादुर सिंह, शिव प्रसाद दुबे, ओम प्रकाश तिवारी, राम प्रसाद, निर्मला देवी, प्रेम देवी, कामता प्रसाद, श्याम लाल सहित सैकड़ो महिला व पुरुष किसान उपस्थित रहे।

ओमिक्रोन से बचने के लिए प्रोटोकॉल का पालन करें-डॉ.कौशल

सुलतानपुर। ओमिक्रोन वायरस भी कोरोना वायरस का ही रूप है, इससे बचने के लिए पूर्णतः प्रोटोकॉल का पालन हम सभी को सुनिश्चित करना होगा। उक्त बातें जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ एससी कौशल ने जनपद वासियों से अपील करते हुए कहाकि मास्क का प्रयोग, घर की साफ-सफाई के साथ ही स्वयं की साफ-सफाई सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखना, यदि किसी में ऐसे लक्षण दिखते है, तो फौरन अस्पताल आए, अपनी जांच कराए और डाक्टरों की सलाह के अनुसार दवाएं और निर्देश का पालन करें।

सीएमएस डाॅ.कौशल ने ओमिक्रोन वायरस को लेकर जनपद वासियों को सचेत करते हुए कहाकि जिला अस्पताल में ओमिक्रोन संक्रमित मरीजों के लिए समस्त प्रकार की जांच, दवाएं व उनके लिए बेड सुरक्षित हैं, परंतु इसके विस्तार को रोकने के लिए हमसब को प्रोटोकॉल का पालन गंभीरता से सुनिश्चित करना होगा।