Home सेहत Pimple Acne Treatment in Hindi: 1 क्लिक पर पाएं Easy Tips

Pimple Acne Treatment in Hindi: 1 क्लिक पर पाएं Easy Tips

Pimple Acne Treatment in Hindi: बस फॉलो करें यह कुछ आसान टिप्स
Pimple Acne Treatment in Hindi: बस फॉलो करें यह कुछ आसान टिप्स

Pimple Acne Treatment in Hindi: पिंपल एक ऐसी समस्या है जिससे न सिर्फ स्किन बल्कि लुक भी बिगड़ जाता है। खासतौर से अगर किसी फंक्शन में जाना हो तब तो इसे छिपाने के लिए न जाने कितने सारे उपाए करने पड़ते है, लेकिन अगर आप कुछ तरीके अपनाएं तो रातभर में भी पिंपल गायब हो सकता है।

रातभर में पिंपल गायब करने के (Pimple Acne Treatment in Hindi) कुछ खास उपाए-

बर्फ

पिंपल की सूजन और जलन कम करने का काम करती है। पिंपल पर बर्फ लगाने से रक्त संचार में वृद्धि होती है और रोमछिद्रों को भी प्रभावित करती है। जब आप बर्फ का इस्तेमाल करते है तो इससे पिंपल्स के आस-पास की गंदगी और तेल निकल जाता है। एक कपड़े में बर्फ का टुकड़ा लपेटकर पिंपल्स पर फेरे। इससे पिंपल्स की समस्या दूरो होगी।

स्टीम उपचार

चेहरे की गंदगी को हटाकर उसकी चमक को बनाएं रखने का आसान तरीका स्टीम है। स्टीम लेने से चेहरे के रोम छिद्र खुल जाते है, जिससे स्किन की त्वचा को सांस लेने में आसानी हो जाती है। इसी के साथ पिंपल्स होने की आंशका भी घट जाती है।

टूथपेस्ट

सफेद टूथपेस्ट को करीब 1 घंटे तक पिंपल्स पर लगाकर छोड़ दें। ध्यान रखें कि टूथपेस्ट जेलयुक्त न हो। इस प्रक्रिया को रात के समय करें। इससे पिंपल्स की सूजन के साथ पिंपल ही गायब हो जाएगा।

टी ट्री ऑयल

इस ऑयल में शक्तिशाली एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लामेट्री गुण पाए जाते हैं। जो पिंपल को हटाने में मदद करते है। इसके लिए 1 पार्ट टी ट्री ऑयल में 9 पार्ट पानी मिक्स कर लें। इसके बाद इसे प्रभावित जगह पर लगा लें। अगर जरूरी हैं तो आप मॉश्चराइजर भी लगा सकते हैं। इसे आप रोजाना 1-2 बार जरूर लगाए।

सेब का सिरका

सेब के सिरका में कार्बनिक अम्ल होता है जो पिंपल पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। लेकिन इसे लगाने से पहले जान लें कि इसके कारण त्वचा पर जलन या फिर जल सकती है, इसलिए इसका उपयोग सावधानी से किया जाना चाहिए। इसका इस्तेमाल करने के लिए 1 भाग सेब के सिरका में 3 भाग पानी मिला लें। इसके बाद कॉटन बॉल की मदद से इसे पूरे चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लें। करीब 4-5 मिनट लगा रहने के बाद साफ पानी से धो लें। बेस्ट रिजल्ट के लिए दिन में 1-2 बार इस्तेमाल करे।

जाने पिंपल होनें के कारण-

हॉर्मोनल बदलाव

हमारे शरीर में तेजी से हॉर्मोनल बदलाव हो रहे होते हैं। इस कारण हॉर्मोन्स लेवल डिस्टर्ब होने हमारी स्किन पर पिंपल्स उगने लगते हैं। जो शुरुआत में किसी छोटे दाने या उभार की तरह महसूस होते हैं। फिर धीरे-धीरे करीब 5 से 7 दिन में पकते हैं और पूरी तरह खत्म होने में करीब 10 से 15 दिन ले लेते हैं। इतने पर भी हमारे चेहरे या गर्दन पर निशान छोड़ जाते हैं, जो महीनों तक हमारी त्वचा पर बना रहता है। वाकई पिंपल ना केवल हमें शारीरिक दर्द देते हैं बल्कि मानसिक पीड़ा भी देते हैं। ऐसे में इनसे बचने के तरीके जानना बेहद जरूरी है। हार्मोंस को बैलेंस रखना भी Pimple Acne Treatment in Hindi में फायदेमंद होते हैं।

कब्ज के कारण भी पिंपल की समस्या होती है-

कई बार खान-पान ठीक से ना होने या पेट संबंधी किसी दिक्कत के चलते हमें कब्ज की समस्या हो जाती है। इस कारण हमारे शरीर के विषाक्त तत्व बाहर नहीं निकल पाते। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि हमारी बॉडी किसी भी तरह का गार्बेज अपने अंदर नहीं समेटती है और उसे बाहर निकालने का रास्ता खोज ही लेती है।

इसी वजह से कब्ज के कारण जो भी हॉर्मफुल एलिमेंट्स हमारे शरीर के अंदर पनपते हैं, हमारा मेटाबॉलिज़म उन्हें स्किन के रोम छिद्रों द्वारा बाहर फेंकने लगता है। ताकि शरीर के अंदर कोई घातक बीमारी ना पनपे। इस दौरान ये विषाक्त तत्व हमारे स्किन पोर्स को बंद कर देते हैं। जिस कारण हमारी त्वचा सांस नहीं ले पाती और उसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। जो पिंपल के रूप में हमें नजर आते हैं।

पिंपल्स को दूर करने के कुछ और महत्वपूर्ण उपाय-

  • यदि बार-बार चेहरा धोना हो तो सिर्फ पानी से धोएं। हर बार साबुन व फेस वॉस से धोने की जरूरत नहीं होती।
  • जंक फूड और तली-भुनी चीजों को कम ही खाएं।
  • टेंशन और स्ट्रेस से दूर रहें, अधिक समय तक धूप में रहने से भी त्वचा को बचाए।
  • योगा करें और खूब पानी पीएं।
Pimple Acne Treatment in Hindi: 1 क्लिक पाएं Easy Tips
Pimple Acne Treatment in Hindi: 1 क्लिक पाएं Easy Tips

जाने पिंपल्स के प्रकार (Types of Pimples)-

नॉर्मल पिंपल्स

इस तरह के पिंपल्स सफेद परत के साथ गुलाबी या थोड़े से लाल और पस और तेल से भरे होते है। यह पिंपल्‍स पोर्स के अंदर बंद होने के कारण होते हैं। बैक्टीरीया के बढ़ने से इसमें सूजन होने लगती है और सफेद तरल पदार्थ यानी पस भर जाती है। इस तरह के पिंपल्‍स सबसे आसानी से ठीक होने वाले पिंपल्स हैं। बेंजोयल पेरोक्साइड और सैलिसिलिक एसिड की मौजूदगी वाले प्रोडक्‍ट्स से आप इन पिंपल्स से छुटकारा पा सकते हैं।

गांठ वाले पिंपल्स

गांठ वाले पिंपल्‍स सबसे खतरनाक और काफी दर्दनाक पिंपल्‍स होते हैं, जो त्‍वचा के अंदर तक हो जाते हैं। यह चेहरे के किसी भी हिस्‍से पर हो सकते हैं। यह लाल और सफेद ब्‍लड सेल्‍स, ऑयल और बैक्‍टीरिया से भरे होते हैं। गांठ वाले बड़े पिंपल्स को ठीक होने में महीना भर लग जाता है। इस तरह के पिंपल्स को साधारण प्रोडक्ट की मदद से कभी ठीक नहीं किया जा सकता है। इनसे निज़ात पाने के लिए स्किन स्पेशलिस्ट से ट्रीटमेंट लेना जरूरी होता है।

ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स वाले पिंपल्‍स

इस तरह के पिंपल्‍स तब होते हैं, जब सीबम या डेड स्किन सेल्स से आपकी स्किन के पोर्स बंद हो जाते हैं। ब्लैकहैड्स पिंपल्‍स हवा के संपर्क में आकर ऑक्सीडाइज होकर ब्लैक हो जाते हैं। जबकि व्हाइटहेड्स तब बनते हैं, जब यह त्‍वचा के अंदर होते हैं और हवा से ऑक्सीडाइज नहीं हो पाते हैं। इन दोनों का इलाज साधारण प्रोडक्ट्स से नहीं हो सकता है। ब्लैकहेड्स या व्हाइटहेड्स को हटाने के लिए सैलिसिलिक एसिड हमेशा ही बड़े काम का होता है।

Pimple Acne Treatment in Hindi के लिए 1 क्लिक पर पाएं Easy Tips, इसी तरह से जानकारी पाने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइव करें, फेसबुक व इंस्टाग्राम पर फॉलो करें।

Pimple Acne Treatment in Hindi: 1 क्लिक पाएं Easy Tips

error: Copyright: mail me to [email protected]
%d bloggers like this: