Ramayan in Urdu Language: माही सिद्दीकी ने रामायण का उर्दू में किया अनुवाद

  • कानपुर || ई-रेडियो इंडिया

Ramayan in Urdu Language: कानपुर की रहने वाली डॉ. माही तलत सिद्दीकी ने हिंदूओं के पवित्र ग्रंथ रामायण का उर्दू में अनुवाद किया है। उनकी इस कार्यकुशलता पर उन्हें लोग बधाई दे रहे हैं। लोगों का कहना है कि जिसस समय में पार्टियां हिंदू मुस्लिम का राग अलाप कर देश को असुरक्षित करने की ओर अग्रसर हैं तो वहीं दूसरी ओर माही के इस प्रयास ने सियासी दुश्मनों के मुंह पर करारा तमाचा मारा है।

माही बतातीं हैं कि कुछ साल पहले; कानपुर शहर के रहनेवाले बद्री नारायण तिवारी ने उन्हें रामायण की एक प्रति दी। रामायण पढ़ने के बाद माही ने निश्चय किया कि वो इसका उर्दू में अनुवाद करेंगी। सिद्दीकी ने अपने प्रयासों के माध्यम से धर्मों के बीच समानता को उजागर तो किया ही है साथ ही साथ उन्होंने भगवान राम की शिक्षाओं को किसी की बपौती होने का दावा भी खारिज कर दिया।

Advertisement

प्यार व सद्भावना का प्रती है- Ramayan in Urdu Language

सिद्दीकी ने रामायण का अनुवाद अपनी पुस्तक “राम कथा और मुस्लिम साहित्यकार समग्र” में किया है। हिंदी साहित्य में एमए और डॉक्टरेट की डिग्री प्राप्त माही ने कहा कि समाज के कुछ लोग धार्मिक मुद्दों को भड़काकर अपने स्वार्थ की दुकानें चलाते हैं, लेकिन कोई भी धर्म आपस में बैर करना नहीं सिखाता। सभी धर्मों के लोगों को आपस में प्यार और सद्भावना से रहना चाहिए और इसके लिए जरूरी है कि एक-दूसरे के धर्मों की भी इज्‍जत की जाए। डॉ माही ने कहा कि आगे भी वो अपने कलम के माध्यम से आपसी सौहार्द्र कायम करने का काम करती रहेंगी।

1 COMMENT

Comments are closed.