भ्रष्टाचार के आरोप में आबकारी विभाग का आरक्षी गिरफ़्तार

536
भ्रष्टाचार के आरोप में आबकारी विभाग का आरक्षी गिरफ़्तार
भ्रष्टाचार के आरोप में आबकारी विभाग का आरक्षी गिरफ़्तार
  • फाईज़ अली सैफी || ई-रेडियो इंडिया

गाज़ियाबाद। थाना मुरादनगर और आबकारी विभाग की संयुक्त टीम ने मंगलवार रात्रि ग्राम दुहाई पेरिफेरल हाईवे टोल के पास से एक अभियुक्त कुलदीप पुत्र वेद प्रकाश निवासी रोहतक हरियाणा को गिरफ़्तार किया हैं। पुलिस को इसके पास से एक दूध की वैन बरामद हुई हैं। जिसमें अभियुक्त गण मात्रा में अवैध शराब लाद कर ले जा रहा था। जिसके संबंध में मुकदमा पंजीकृत किया गया हैं तथा अग्रिम कार्रवाई की जा रही हैं।

आपको बता दें कि अभियुक्त कुलदीप ने पूछताछ में बताया कि आबकारी विभाग के आरक्षी संदीप कुमार और मुख्य आरक्षी मदन पाल द्वारा उसे काफी पहले दुहाई टोल पर रोक लिया गया था और तो और अभियुक्त गण कुलदीप के मालिक से फोन पर चार लाख रुपए की घूस शराब छोड़ने के बदले मांगी गई थी। जिसके बाद मालिक इतने पैसे देने में असमर्थ हो गया था तथा जिसके बाद एक लाख में शराब व ट्रक छोड़ने की बात तय हो गई थी।

लेकिन, बाद में बात नहीं बनी तो आरक्षी संदीप में अभियुक्त को टोल बूथ में ले जाकर उसकी जेब से अवैध रूप से सारे पैसे निकाल लिए थे। अभियुक्त गण कुलदीप ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसके पास से जो पैसे आरक्षी संदीप ने लिए थे, उनमें पांच-पांच सौ के दो नोट और इनके बीच में दो नोट नेपाल के थे। इतना ही नहीं, अभियुक्त में बताया कि इसमें एक नोट दस का और एक नोट पांच का भी था।

गौरतलब है कि आरोपी की गंभीरता को देखते हुए आरक्षी संदीप से सख्ती से पूछताछ की गई तथा उसकी तलाशी ली गई तो उसकी जेब से ठीक वही नोट बरामद हुए हैं। जिसका आरक्षी संदीप कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे सका हैं। पूछताछ में पता चला कि आबकारी आरक्षी संदीप ने अभियुक्त की गिरफ़्तारी से लेकर बाद तक अपने अधिकारियों और पुलिस को नगदी के बारे में कोई जानकारी नहीं दी हैं।

वहीं, दूसरी तरफ मुख्य आरक्षी मदन पाल को आबकारी विभाग के अधिकारियों तथा थाना पुलिस द्वारा तलाश किया गया तो वह थाने से फरार हो गया हैं। जिसके चलते इस संबंध में आबकारी निरीक्षक त्रिभुवन सिंह द्वारा की गई तहरीर के अनुकूल आबकारी आरक्षी संदीप कुमार व मुख्य आरक्षी आबकारी मदन पाल के विरुद्ध भ्रष्टाचार अधिनियम के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया गया हैं। पुलिस आबकारी विभाग के मुख्य आरक्षियों के विरुद्ध अग्रिम कानूनी कार्रवाई कर रही हैं।

1 COMMENT

Comments are closed.