होम Uncategorized वाल्मीकि समाज ने महापंचायत करके भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोला

वाल्मीकि समाज ने महापंचायत करके भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोला

  • मतदान के दिन सपा नेता विपिन मनोठिया और सपा प्रत्याशी आदिल चौधरी की पिटाई का मामला
  • वाल्मीकि समाज ने दिया अल्टीमेटम- सोमवार तक कार्रवाई न हुई तो ठप होगी जिले की सफाई व्यवस्था


मेरठ। मतदान के दिन भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा की गई मारपीट का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। विपिन मनोठिया के साथ हुई मारपीट के बाद से वाल्मीकि समाज में आक्रोश है। इस मामले में विपिन मनोठिया द्वारा मेडिकल थाने में चार नामजद और 50-60 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है।

लेकिन रिपोर्ट दर्ज होने के कई घंटे बाद भी पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर आक्रोशित वाल्मीकि समाज ने शनिवार सूरज कुंड रोड पर एक महापंचायत कर भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वाल्मीकि समाज ने पंचायत में यह फैसला किया कि अगर पुलिस ने 24 घंटे के भीतर नामजद युवकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की तो वाल्मीकि समाज सड़कों पर उतरेगा। जिसकी समस्त जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी।

वाल्मीकि समाज का कहना है कि भाजपा के प्रत्याशी सोंमेंद्र तोमर के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज होनी चाहिए। आरोप लगाया कि विपिन मनोठिया के साथ हुई मारपीट भाजपा प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर के इशारे पर हुई है। इस दौरान वाल्मीकि समाज के लोगों ने कहा कि विपिन के साथ हुई घटना वाल्मीकि समाज का अपमान है और समाज अपना अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा। हमे अपने अपमान का बदला लेना अच्छी तरह से आता है।

वाल्मीकि समाज के नेता विनेश मनोठिया ने कहा कि सोमवार तक अगर कार्रवाई नहीं होती है। तो वाल्मीकि समाज सड़कों पर उतरेगा। महापंचायत में धर्मराज छावरिया, गौरव कुमार, उमेश कुमार, मुकेश कुमार, प्रवीण वाल्मीकि, गौरव वाल्मीकि, कृष्ण कुमार वाल्मीकि, संजय वाल्मीकि, अमित प्रधान ने अपने विचार रखे। व्यापारी नेता शैंकी वर्मा समेत विभिन्न संगठनों के लोगों ने पहुंचकर समर्थन दिया। इस पंचायत में जग रोशन जाटव अश्वनी जाटव भोला जाटव रामजीवन जाटव आदि मौजूद रहे।

जानिए, क्या था पूरा मामला

घटना 10 फरवरी को मतदान के दिन की है। थाना मेडिकल अंतगर्त के ब्लाक शास्त्रीनगर के बूथ संख्या 372 और 374 जो कि विद्यामंदिर में हैं। इनमें फर्जी मतदान की शिकायत सपा नेताओं को मिली थी। जिसके बाद सपा नेता विपिन मनोठिया और दक्षिण विधानसभा से सपा प्रत्याशी आदिल चौधरी के साथ बूथ संख्या 372 और 374 पर पहुंचे थे। जहां पर चारों नामजद युवकों ने उनको घेर लिया और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।

इसी दौरान करीब 50-60 लोगों की भीड़ उन पर टूट पड़ी और सड़क पर गिरा-गिराकर पीटा गया। सपा नेता विपिन मनोठिया ने थाने में दी तहरीर में कहा है कि उन्होंने किसी तरह से भागकर अपनी जान बचाई लेकिन उनको काफी चोंटे आई हैं।

error: Copyright: mail me to [email protected]
%d bloggers like this: