Rewari Nagar Parishad पहुंचे डीसी, अधिकारी हुए सतर्क

त्रुटियों को दुरुस्त करने के दिए आदेश, कहा -समस्याओं से छुटकारा दिना हमारा कर्तव्य

Rewari Nagar Parishad पहुंचे डीसी, अधिकारी हुए सतर्कडीसी अशोक कुमार गर्ग ने नप का औचक निरीक्षण किया। साथ ही वहां काम कराने के लिए पहुंचे लोगों से भी मुलाकात करते हुए नगर परिषद के अधिकारियों की कार्यशैली को लेकर पूछा। डीसी के अचानक नगर परिषद में पहुंचने से अधिकारियों में खलबली मच गई।

—–निरीक्षण के दौरान डीसी नगर परिषद में बने हर अधिकारी के कार्यालय में पहुंचे। साथ ही अधिकारियों व कर्मचारियों की आमजन से जुड़ी व्यवहारकुशलता को देखा। डीसी ने नगर परिषद कार्यालय में प्रॉपर्टी व एनडीसी प्रक्रिया की जांच करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इसके बाद डीएमसी के कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक भी की।

Advertisement

डीसी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि एनडीसी में नियमों की पालना की जाए और निर्धारित शेडूयल से पूर्व कोई एनडीसी चाहता है तो तत्काल की फीस अनुसार एनडीसी जारी करें। डीसी ने निर्देश दिए कि आमजन को किसी भी प्रकार की दिक्कत न आए इसके लिए व्यवस्था पूर्ण कार्य करे। डीसी गर्ग ने डीएमसी डॉ. सुभिता ढाका को दिए निर्देश कि शहरी क्षेत्र में अतिक्रमण किसी भी रूप से न हो। साथ ही अवैध निर्माण करने वालों पर मॉनिटरिंग करते हुए कार्रवाई अमल में लाए।

निरीक्षण के दौरान डीएमसी डॉ. सुभिता ढाका, नगर परिषद चेयरपर्सन पूनम यादव व नप एक्सईएन अजय सिक्का के अलावा तमाम अधिकारी मौजूद रहे।

आम लोगों के लिए सबसे बड़ी समस्या एनडीसी और प्रोपर्टी टैक्स ही है। इसलिए लोगों को काफी धक्के खाने पड़ते है। साथ ही एनडीसी को लेकर को क्रप्शन तक के आरोप लग चुके है। 3 अधिकारियों पर केस भी दर्ज हो चुका है, जबकि एक माह पहले ईओ को सस्पेंड भी किया जा चुका है। ऐसे में डीसी द्वारा औचक निरीक्षण के बाद हालात में सुधार की उम्मीद की जा रही है।

अतिक्रमण बन चुका नासूर

रेवाड़ी शहर में अतिक्रमण सबसे बड़ी समस्या है। त्योहार के सीजन में अतिक्रमण की वजह से और भी ज्यादा समस्या खड़ी हो गई है। मेन बाजार में तो पैदल निकला भी मुश्किल हो गया है, जबकि दीपावली में अभी एक सप्ताह का वक्त है। डीसी ने अधिकारियों को अतिक्रमण पर लगाम लगाने के लिए सख्त आदेश दिए है।