मतदान लोकतंत्र की आत्मा : आदेश कुमार फौजी

  • मेरठ।

भारतीय मतदाता संघ के मुख्य कार्यालय पर बृहस्पतिवार को भारत के लोकतंत्र प्रणाली और मतदान प्रतिशत में गिरावट विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया। जिसमें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव एवं आचार संहिता लगने से पहले आयोजित की गई।

इस मौके पर राष्ट्रीय अध्यक्ष ने विचार रखते हुए कहा कि मतदान लोकतंत्र की आत्मा है लोकतांत्रिक व्यवस्था में देश और प्रदेश के युवाओं को शत-प्रतिशत मतदान के लिए और भारतीय मतदाता संघ के पदाधिकारियों एवं सदस्यों को आगे आना चाहिए।

Advertisement

 आयोजित बैठक में भारतीय मतदाता संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आदेश कुमार फौजी ने कहा कि लोकतंत्र की जीवंतता तभी बचेगी जब देश और प्रदेश का हर एक मतदाता शत-प्रतिशत मतदान करें देश और प्रदेश के मतदाताओं को अपना रुझान खुलकर मतदान के माध्यम से करना चाहिए क्योंकि इसी में लोकतंत्र के सार्थकता निहित है।

उन्होंने कहा कि मतदान प्रतिशत में गिरावट लोकतंत्र के लिए खतरनाक साबित हो सकती है कार्यक्रम में परिचर्चा करते हुए राष्ट्रीय महासचिव वैध सुरेश कुमार ने विचार रखते हुए कहा कि मतदान भारतीय मतदाताओं का और देश.के सभी नागरिकों का संवैधानिक एवं मौलिक अधिकार है।

प्रदेश अध्यक्ष युवा मोर्चा दीपक मलिक ने विचार रखते हुये कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले भारत सरकार को मतदान की अनिवार्यता को लेकर कानून बनाया जाना चाहिए। इसके लिए लोकसभा एवं सभी राज्यों की विधानसभा में विधेयक लाकर कानून बनाना चाहिए किसी भी चुनाव में मतदान के प्रतिशत में गिरावट आना जनतंत्र के लिए कतई उचित नहीं है।

प्रदेश अध्यक्ष दिल्ली राहुल शर्मा ने विचार रखते हुये कहा भारतीय लोकतंत्र में दिन-प्रतिदिन मतदान प्रतिशत में गिरावट आना चिंताजनक है। महासचिव आजाद मलिक ने विचार रखते हुए कहा यह हमारे देश का दुर्भाग्य है कि लोग चुनाव के समय अपने अमूल्य वोट डालने के लिए घरों से नहीं निकलते हैं इसलिए मतदान पर शत् प्रतिशत विधेयक के लिये लोकसभा में कानून बनाना चाहिए।

वक्ताओं ने विचार रखते हुए कहा आज से और अभी से भारतीय मतदाता संघ के सभी पदाधिकारी यह शपथ लेते हैं कि भारत के हर राज्य में मतदान के प्रति जागरूकता अभियान चलाएंगे मतदान प्रतिशत में हुई गिरावट को बढ़ाने का प्रयास करेंगे और लोकतंत्र प्रणाली को मजबूत करेंगे।

पदाधिकारियों ने बताया कि भारत के 19 राज्यों में भारतीय मतदाता संघ के 5 लाख से अधिक सदस्यों है जो हमारी आने वाली हमारी पीढ़ी को मतदान के प्रति जागरूक करती रहेगी और वोटरों में वोट डालने के प्रति रुचि बढ़ाने एवं निष्पक्ष ईमानदार,साफ छवि के जन प्रतिनिधि चुनने के लिए भारत के हर राज्य मे होने वाले विधानसभा से पहले मिशन चलाएगें।