What is Tuberculosis and Tuberculosis Symptoms: ट्यूबरक्‍युलोसिस आज के समय में हालाकि एक कंट्रोल्ड डिजीज है फिर भी हमें इससे संभलकर चलने की जरूरत है। इस आर्टिकल में हम आपको बतायेंगे कि टीबी के बारे में पूरी जानकारी और इसके लक्षण व बचाव की जानकारी। टीबी एक संक्रामक बीमारी है, जो ट्यूबरक्‍युलोसिस बैक्टीरिया के कारण होती है। इस बीमारी का सबसे अधिक प्रभाव फेफडों पर होता है। फेफड़ों के अलावा ब्रेन, यूटरस, मुंह, लिवर, किडनी, गले आदि में भी टीबी हो सकती है।

बताते चलें कि सबसे कॉमन फेफड़ों का टीबी है, जो कि हवा के जरिए एक से दूसरे इंसान में फैलती है। टीबी के मरीज के खांसने और छींकने के दौरान मुंह-नाक से निकलने वालीं बारीक बूंदें इन्हें फैलाती हैं। फेफड़ों के अलावा दूसरी कोई टीबी एक से दूसरे में नहीं फैलती। टीबी खतरनाक इसलिए है क्योंकि यह शरीर के जिस हिस्से में होती है, सही इलाज न हो तो उसे बेकार कर देती है। इसलिए टीबी के आसार नजर आने पर जांच करानी चाहिए।

What is Tuberculosis and Tuberculosis Symptoms
What is Tuberculosis and Tuberculosis Symptoms

Tuberculosis Symptoms

खांसी आना: टीबी सबसे ज्यादा फेफड़ों को प्रभावित करती है, इसलिए शुरुआती लक्षण खांसी आना है। पहले तो सूखी खांसी आती है लेकिन बाद में खांसी के साथ बलगम और खून भी आने लगता है। दो हफ्तों या उससे ज्यादा खांसी आए तो टीबी की जांच करा लेनी चाहिए।

पसीना आना: पसीना आना टीबी होने का लक्षण है। मरीज को रात में सोते समय पसीना आता है। वहीं, मौसम चाहे जैसा भी हो रात को पसीना आता है। टीबी के मरीज को अधिक ठंड होने के बावजूद भी पसीना आता है।

बुखार रहना: जिन लोगों को टीबी होती है, उन्हें लगातार बुखार रहता है। शुरुआत में लो-ग्रेड में बुखार रहता है लेकिन बाद संक्रमण ज्यादा फैलने पर बुखार तेज होता चला जाता है।

थकावट होना: टीबी के मरीज की बीमारी से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है। जिसके कारण उसकी ताकत कम होने लगती है। वहीं, मरीज के कम काम करने पर अधिक थकावट होने लगती है।

वजन घटना: टीबी हो जाने के बाद लगातार वजन घटने लगता है। खानपान पर ध्यान देने के बाद भी वजन कम होता रहता है। वहीं, टीबी के मरीज की खाने को लेकर रुचि कम होने लगती है।

सांस लेने में परेशानी: टीबी हो जाने पर खांसी आती है, जिसके कारण सांस लेने में परेशानी होती है। अधिक खांसी आने से सांस भी फूलने लगती है।

बचाव के तरीके

1- 2 हफ्ते से ज्यादा खांसी होने पर डॉक्टर को दिखाएं। दवा का पूरा कोर्स लें। डॉक्टर से बिना पूछे दवा बंद न करे।
2- मास्क पहनें या हर बार खांसने या छींकने से पहले मुंह को पेपर नैपकिन से कवर करें।
3- मरीज किसी एक प्लास्टिक बैग में थूके और उसमें फिनाइल डालकर अच्छी तरह बंद कर डस्टबिन में डाल दें। यहां-वहां नहीं थूकें।
4- मरीज हवादार और अच्छी रोशनी वाले कमरे में रहे। साथ ही एसी से परहेज करे।
5- पौष्टिक खाना खाए, एक्सरसाइज व योग करे।
6- बीड़ी, सिगरेट, हुक्का, तंबाकू, शराब आदि से परहेज करें।
7- भीड़-भाड़ वाली और गंदी जगहों पर जाने से बचें।
8- बच्चे के जन्म पर BCG का टीका लगवाएं।

Tuberculosis meaning in Hindi

ट्यूबरक्लोसिस (टी.बी) को हिंदी में क्षय रोग कहते है। यह बहुत ही ख़तरनाक बीमारी है। टी.बी एक ऐसी बीमारी है जिसकी पहचान आसानी से नहीं कर सकते है। इसके लक्षणों पर ध्यान देने की बहुत जरूरत है। आज विश्व में लाखो लोग (टी.बी) रोग के शिकार हो जाते है जिसके कारण बहुत से लोगो की मृत्यु हो जाती है।

What is the tuberculosis caused by?

टीबी एक संक्रामक रोग है जो हवा और सांस से फैलता है। जब कोई टीबी का मरीज खांसता या छींकता है तो उससे निकलने वाले कणों के संपर्क में आने से टीबी हो सकता है। इसके अलावा कुछ और रिस्क फैक्टर्स भी हैं जो आपमें टीबी के खतरे को और बढ़ा देती हैं।

उपलब्ध टीके और टीकाकरण अभियान

राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रमों के भाग के रूप में बैसिलस कैल्मेट-गुएरिन (BCG) टीका का प्रयोग उन देशों में किया जाता है जहां TB के अनेक मामले होते हैं। टीका, TB के जीवाणु के कारण होने वाले फेफड़ा-संबंधी रोग से बच्चों को पूरी तरह से सुरक्षित नहीं रखता है, और न ही यह सक्रिय रोग का रूप लेने वाले सुप्त TB संक्रमण से रक्षा करता है। हालांकि, यह बच्चों में होने वाली कुछ गंभीर TB जटिलताओं की रोकथाम करता है TB मेनिंजाइटिस जो जानलेवा होता है। टीका का प्रयोग आमतौर पर वयस्कों में नहीं किया जाता, और बच्चों में टीका रोग के प्रसार को नहीं रोकता।

BCG के टीके का प्रयोग 1921 से किया जा रहा है। बहुत से शोधकर्ता क्षय रोग के अधिक प्रभावकारी टीके के निर्माण के लिए काम कर रहे हैं। एक ऐसे टीके के विकसित होने की उम्मीद है जो क्षय रोग के संक्रमण की रोकथाम करेगा, जिससे रोग के दुनिया भर के बोझ को कम करेगा और साथ ही TB के जीवाणु का प्रसार कम होगा।

पूरे देश में करें विज्ञापन सिर्फ 5 हजार में एक माह के लिये-

अगर आपके व्यवसाय, कम्पनी या #प्रोडक्ट की ब्राडिंग व #प्रमोशन अनुभवी टीम की देखरेख में #वीडियो, आर्टिकल व शानदार ग्राफिक्स द्वारा किया जाये तो आपको अपने लिये ग्राहक मिलेगें साथ ही आपके ब्रांड की लोगों के बीच में चर्चा होनी शुरू हो जायेगी।
साथियों, वीडियो और #आर्टिकल के माध्यम से अपने व्यापार को Eradio India के विज्ञापन पैकेज के साथ बढ़ायें। हम आपके लिये 24X7 काम करने को तैयार हैं। सोशल मीडिया को हैंडल करना हो या फिर आपके प्रोडक्ट को कस्टमर तक पहुंचाना, यह सब काम हमारी #एक्सपर्ट_टीम आपके लिये करेगी।

इस पैकेज में आपको इन सुविधाओं का लाभ मिलेगा-

  • आपकी ब्रांड के प्रचार के लिए 2 वीडियो डॉक्यूमेंट्री।
  • 2 सोशल मीडिया एकाउंट बनाना व मेंटेन करना।
  • 8 ग्राफिक्स डिज़ाइन की शुभकामना व अन्य संदेश का विज्ञापन।
  • फेसबुक विज्ञापन और Google विज्ञापन, प्रबंधन।
  • नियमित प्रोफ़ाइल को मेंटेन करना।
  • नि:शुल्क ब्रांड लोगो डिजाइन (यदि आवश्यक होगा तो)।
  • परफेक्ट हैशटैग के साथ कंटेंट लिखना और प्रभावशाली पोस्टिंग।
  • कमेंट‍्स व लाइक्स काे मैंनेज करना।
  • www.eradioindia.com पर पब्लिश की जाने वाली न्यूज में आपका विज्ञापन नि:शुल्क दिया जायेगा।
  • अभी ह्वाट‍्सअप करें: 09458002343
  • ईमेल करें: eradioindia@gmail.com

1 COMMENT

Comments are closed.