यूक्रेन से जंग के बीच पुतिन ने अपने परिवार को ‘अंडरग्राउंड सिटी’ में क्यों भेजा

नई दिल्ली। यूक्रेन से चल रहे युद्ध के बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और उनका परिवार लगातार कयासों और सुर्खियों में हैं। इसी बीच दावा किया जा रहा है कि पुतिन ने अपने परिवार को एक ऐसी अंडरग्राउंड सिटी में भेज दिया जहां परमाणु हथियार भी उनका कुछ नहीं कर पाएंगे। रूस के एक प्रोफेसर ने यह दावा करते हुए व्लादिमीर पुतिन के बारे में और भी कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। प्रोफेसर का दावा है कि पुतिन ने अपने परिवार को साइबेरिया की एक सीक्रेट जगह पर भेज दिया है।
दरअसल, डेली मेल ने अपनी एक रिपोर्ट में मॉस्को स्टेस इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल रिलेशंस के प्रोफेसर रहे वालेरी सोलोवी के हवाले से यह जानकारी दी है। रिपोर्ट में प्रोफेसर ने कई सनसनीखेज दावे किए हैं। प्रोफेसर ने कहा कि राष्ट्रपति पुतिन ने इसलिए ऐसा किया है क्योंकि यदि परमाणु युद्ध शुरू हुआ तो वे अपने परिवार को सुरक्षित रख सकें। उन्होंने यह भी कहा कि इस जगह की लोकेशन को एकदम सीक्रेट रखा गया है।
विशेष रूप से तैयार की गई सीक्रेट जगह
प्रोफेसर का कहना है कि पुतिन ने जिस भूमिगत शहर में अपने परिवार के सदस्यों को पहुंचाया है, वह साइबेरिया के अल्ताई पर्वत में स्थित है। यह एक लक्जरीपूर्ण और हाईटेक बंकर है। इतना ही नहीं इस बंकर को परमाणु युद्ध की स्थिति में सुरक्षा के लिए ही खास तौर पर डिजाइन किया गया है। यह खासकर पुतिन और उनके परिवार के लिए सीक्रेट तौर पर तैयार किया गया है, यहीं पुतिन के परिवार को ले जाया गया है।
पुतिन पर लगाए सनसनीखेज आरोप
प्रोफेसर वालेरी सोलोवी ने इसके बाद कहा कि पुतिन एक ‘मानसिक गुप्त रोग’ से प्रभावित हैं, जिसके बारे में रूस की जनता को कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने यूक्रेन युद्ध के लिए पुतिन को ही जिम्मेदार मानते हुए कहा कि पुतिन की वजह से ही यह युद्ध शुरू हुआ है। हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक मॉस्को में कुछ लोग सोलोवी को एक षड्यंत्र सिद्धांतकार या धोखाधड़ी के रूप में बताते हैं और उनके आरोपों को खारिज करते हैं, लेकिन इसी सिलसिले में पिछले दिनों रूसी अधिकारियों द्वारा उनसे सात घंटे तक पूछताछ की गई।
कौन हैं आरोप लगाने वाले प्रोफेसर
पुतिन पर आरोप लगाने वाले प्रोफेसर वालेरी सोलोवी मॉस्को स्टेस इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल रिलेशंस के प्रोफेसर रह चुके हैं। ऐसा माना जाता है कि प्रोफेसर सोलोवी की पहुंच पुतिन प्रशासन के कई सीक्रेट लोगों तक है, हालांकि रिपोर्ट में इसकी पुष्टि नहीं की गई है। रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र है कि आरोप लगाने के बाद प्रोफेसर के घर पुलिस पहुंच गई थी और उनके घर की काफी सख्त तलाशी ली गई। इतना ही नहीं उनके घर में मौजूद तमाम इलेक्ट्रॉनिक सामानों को जब्त कर लिया गया। इसके बाद प्रोफेसर को अरेस्ट भी किया गया लेकिन बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।
प्रोफेसर सोलोवी के इन दावों के बाद रूस में पुतिन के परिवार को लेकर एक बार फिर से हलचल मच गई है। रिपोर्ट्स में कई एक्सपर्ट्स के हवाले से बताया गया है कि प्रोफेसर ने जिस सीक्रेट लोकेशन का जिक्र किया है, वो साइबेरिया क्षेत्र मे स्थिति एक पर्वत पर है, जो चीन और मंगोलिया की सीमा के पास स्थित है। फिलहाल इसके बारे में कोई आधिकारिक सूचना किसी के पास नहीं है।
पुतिन का परिवार लोगों के लिए पहेली
रिपोर्ट में प्रोफेसर के हवाले से यह भी दावा किया कि ओलंपिक जिमनास्ट अलीना काबेवा रूसी नेता व्लादिमीर पुतिन की गुप्त पत्नी हैं। इसके अलावा पुतिन की पहली पत्नी से दो बेटियां हैं। हालांकि पुतिन पहले ही कह चुके हैं कि मेरा एक निजी जीवन है जिसमें मैं हस्तक्षेप की अनुमति किसी को नहीं देता और इसका सम्मान किया जाना चाहिए।
उधर रूस और यूक्रेन के बीच चल रहा युद्ध छठवें दिन में प्रवेश कर गया है। यूक्रेन ने रूसी सेना को कीव के बाहर ही रोक रखा है। इस बीच जी-सेवन के नेताओं ने यूक्रेन के विदेश मंत्री से बात की है। ईयू और अमेरिका पूरी तरह से यूक्रेन का साथ दे रहा है। वहीं बेलारूस रूस के लिए युद्ध में उतर चुका है। इस संकट के बीच भारत ऑपरेशन गंगा के जरिए यूक्रेन में फंसे भारतीयों को लगातार निकाल रहा है।

- Advertisement -spot_img

Stay Connected

5,260फैंसलाइक करें
489फॉलोवरफॉलो करें
1,236फॉलोवरफॉलो करें
15,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

Must Read

error: Copyright: mail me to [email protected]
%d bloggers like this: