क्या 2022 में बसपा को मिल पाएगा जनता का सहयोग?

BSP_Mayawati
  • चुनावी नाव पार लगाने के लिए बसपा को तलास है युवाओं की
  • युवाओं और साफ छबि के चेहरों को चुनावी मोड में ले जाएंगी मायावती

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के आपसी कला और समाजवादी पार्टी के बढ़ते ग्राफ के बाद अब बहुजन समाज पार्टी एक नई चाल खेलने जा रही है। आपको बता दें कि चुनाव 2022 में फतह पाने के लिए जहां जातीय समीकरण बैठाने में तमाम पार्टियां लगी है वहीं पर बहुजन समाज पार्टी ने एक ऐसा जाल बिछाने का प्लान बनाया है जो चुनाव में मायावती की मदद करेगा।

आपको बता दें कि बसपा सुप्रीमो मायावती सधी हुई चाल चलते हुए इस बार अधिकतर विधानसभा सीटों पर नए चेहरों पर दांव लगा रही हैं। यह दांव उन्हीं चेहरों पर लगाया जा रहा है, जिनकी स्वयं की स्थिति अपने क्षेत्र में बेहतर है और उसके पास अपना कुछ वोट बैंक है।

Advertisement

बसपा सुप्रीमो मायावती ने विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन का काम लगभग पूरा कर लिया है। बसपा की पहली सूची 15 जनवरी से आने की संभावना जताई जा रही है। पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिए सबसे पहले उम्मीदवारों की घोषणा की जाएगी। वैसे अधिकतर सीटों पर विधानसभा प्रभारी घोषित किए जा चुके हैं। यही प्रभारी आगे चलकर बसपा उम्मीदवार होते हैं। सूत्रों का कहना है कि मायावती अलग-अलग मंडल के मुख्य सेक्टर और जिला सेक्टर प्रभारियों से मुलाकात कर रही हैं। उनकी रिपोर्ट के आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन किया जा रहा है।